उच्च शिक्षा विभाग ने अतिथि विद्वानों को लेकर गाइड लाइन जारी की | ATITHI VIDWAN NEWS
       
        Loading...    
   

उच्च शिक्षा विभाग ने अतिथि विद्वानों को लेकर गाइड लाइन जारी की | ATITHI VIDWAN NEWS

भोपाल। उच्च शिक्षा विभाग ने अतिथि विद्वानों को लेकर गाइड लाइन जारी की है। ऐसे अतिथि विद्वान जिन्हें चॉइस फिलिंग के बाद कॉलेज में पढ़ाने का मौका मिला, लेकिन उन्होंने कॉलेज में उपस्थित नहीं दी। ऐसे में अब उन्हें दोबारा किसी कॉलेज की चाइस भरने का मौका नहीं दिया जाएगा।

मेरिट के आधार पर 594 अतिथि विद्वानों को कॉलेजों का आवंटन किया गया

बताया जाता है कि उच्च शिक्षा विभाग द्वारा मेरिट के आधार पर 594 अतिथि विद्वानों को कॉलेजों का आवंटन किया गया है, लेकिन पदों की संख्या को देखते हुए गाइड लाइन जारी की गई है।

योग्यता के अनुसार कैटेगिरी चयन में त्रुटि

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार विभाग ने पाया कि कुछ अतिथि विद्वान ऐसे हैं, जिन्होंने अपनी योग्यता के अनुसार कैटेगिरी चयन में त्रुटि की है। इससे अभिलेखों का सत्यापन नहीं हुआ है। लेकिन उन्हें अपनी प्रोफाइल अपटेड करने का मौका दिया जाएगा। च्वाइस फिलिंग के बाद आवंटित कॉलेज में स्थान भरा हुआ है।

ऐसे विद्वानों को दूसरी बार च्वाइस फिलिंग का अवसर मिलेगा

स्थान भरा होने से कॉलेज से आमंत्रण नहीं मिला है। ऐसे विद्वानों को दूसरी बार च्वाइस फिलिंग का अवसर दिया जाएगा।

अतिथि विद्वान पढ़ाने नहीं पहुंचा तो उसे कोई मौका नहीं

वहीं दूसरी ओर च्वाइस फिलिंग के अनुसार कॉलेज का आवंटन होने के बाद अतिथि विद्वान पढ़ाने नहीं पहुंचा तो उसे कोई मौका नहीं दिया जाएगा। आगे की प्रक्रिया में भी रोक दिया जाएगा। उच्च शिक्षा विभाग ने प्रदेश के सभी प्राचार्यों से अतिथि विद्वान की जानकारी अपडेट करने के निर्देश दिए हैं।