Loading...    
   


बेकाबू पुलिस वैन पार्किंग लाइन में घुस गई, 2 बाइकों को टक्कर मारते हुए फरार | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। ग्वालियर मध्यप्रदेश के रॉक्सी इलाके में एक हाई स्पीड पुलिस वैन बेकाबू हो गई। उसने पार्किंग लाइन के भीतर खड़े वाहनों में टक्कर मार दी। टक्कर मारने के बाद पुलिसमैन रुकी नहीं बल्कि फरार हो गई। लोगों ने जमकर हंगामा किया। पुलिस ने शिकायत ले ली है लेकिन अब तक जिम्मेदार पुलिस कर्मचारियों को नामजद नहीं किया गया है।

पब्लिक ने रोकना चाहा, पुलिस वैन टक्कर मारकर फरार हो गई

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार तेज रफ्तार से आ रही गिरवाई थाना की पुलिस वैन ने रॉक्सी इलाके में सड़क किनारे खड़ी एक मोटरसाइकिल और एक्टिवा को टक्कर मार दी। जब मोटरसाइकिल और एक्टिवा वाले ने वैन को रुकवाना चाहा, तो पुलिसवाले वैन लेकर फरार हो गए। इसके बाद स्थानीय लोगों ने हंगामा खड़ा कर दिया। हंगामे की खबर लगते ही माधोगंज पुलिस मौके पर पहुंची, साथ ही ट्रैफिक पुलिस के जवान भी पहुंच गए।

2 वाहन मालिकों ने शिकायत की

हंगामे के दौरान बाइक मालिकों और पुलिस के बीच झड़प भी हो गई। मोटरसाइकिल और एक्टिवा मालिक अपनी गाड़ियों का हर्जाना मांग रहे थे। मोटरसाइकिल मालिक कन्हैया कुशवाहा ने बताया कि वो अपनी दुकान के लिए सामान लेने रॉक्सी बाजार आए थे। गाड़ी को सड़क के किनारे पार्किंग लाइन के अंदर ही खड़ा किया था, लेकिन पुलिस की वैन तेज रफ्तार में थी। इसलिए बेकाबू वैन सड़क छोड़ पार्किंग लाइन के अंदर तक घुस गई थी, जिसकी वजह से कन्हैया की मोटरसाइकिल और तेजपाल की एक्टिवा इसकी चपेट में आकर क्षतिग्रस्त हो गई। दोनों ने अपनी गाड़ियों के नुकसान की भरपाई के लिए शिकायत की है।

डायल 100 ने दर्ज किया मामला

आखिर में डायल 100 मौके पर पहुंची और उसके बाद एक्टिवा और मोटरसाइकिल मालिक थाने पहुंचे, जहां उनकी शिकायत दर्ज की गई है। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि बेकाबू रफ्तार पुलिस वैन की चपेट में अगर कोई राहगीर आ जाता, तो बड़ा हादसा भी हो सकता था। सवाल यही है कि क्या ग्वालियर पुलिस अधिकारी अपने ही महकमे के सिपाहियों की लापरवाही के लिए कार्रवाई करेंगे।

अपडेट: खबर यह भी आ रही है क्या आगे चलकर इसी पुलिस वैन ने कुछ लोगों को टक्कर मारी जिसमें 3 लोग घायल हुए हैं। पब्लिक ने वैन को पकड़ लिया था। गुस्साई भीड़ से घिरे पुलिस कर्मचारियों ने अपनी मदद के लिए दूसरी पुलिस टीम को बुलाया। जनता के सामने पुलिस टीम ने आरोपियों को हिरासत में लिया था।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here