Loading...

MPPSC Exam 2020 का बड़ा टंटा: कड़कड़ाती ठंड में हाफ स्लीव टी-शर्ट पहनकर कैसे परीक्षा दे

भोपाल। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित राज्यसेवा प्रारंभिक परीक्षा के आयोजन में एक बड़ी समस्या आ गई है। नियमानुसार उम्मीदवार परीक्षा कक्ष में गर्म कपड़े और जूते मोजे पहनकर नहीं जा सकते। सवाल यह है कि कड़कड़ाती ठंड में हाफ स्लीव टी शर्ट और चप्पल पहनकर उम्मीदवार परीक्षा कैसे देंगे। 

मध्यप्रदेश में राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन 12 जनवरी को किया जा रहा है। परीक्षा का समय सुबह 10:00 बजे तय किया गया है। इन दिनों पूरा मध्य प्रदेश शीतलहर की चपेट में है। लोग घरों में भी गर्म कपड़े पहन कर रह रहे हैं। पीएससी परीक्षा के लिए कुल 360000 उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। सवाल यह है कि लोक सेवा आयोग के नियम अनुसार हाफ स्लीव टी शर्ट और चप्पल पहनकर उम्मीदवार परीक्षा कैसे दे पाएंगे। लोक सेवा आयोग ने इस बारे में कोई फैसला नहीं किया है।

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने चार वर्ष पहले एम्स की परीक्षा की तर्ज पर परीक्षा हॉल में प्रवेश के लिए कड़े नियम-कायदे लागू किए थे। इन नियमों के अनुसार उम्मीदवार परीक्षा कक्ष में ना तो फुल स्लीव टी शर्ट पहन सकते हैं और ना ही जूते-मोजे। अब तक लोक सेवा आयोग की परीक्षाएं गर्मी के मौसम में होती थी अतः नियमों के पालन में कोई समस्या नहीं थी लेकिन इस बार परीक्षाओं का आयोजन कड़कड़ाती ठंड में किया जा रहा है। उम्मीदवारों की मांग है कि परीक्षा हॉल में स्वेटर, जूते मुझे और फुल स्लीव की शर्ट पहनने की अनुमति दी जाए। परंतु लोक सेवा आयोग ने अब तक इस बारे में कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं किया है।

MPPSC 2020 उम्मीदवारों की किस्मत आप कलेक्टर के हवाले

रेणु पंत, सचिव, मप्र लोकसेवा आयोग का कहना है कि आयोग ने जिला प्रशासन को निर्देश दिया है कि परीक्षा के दिन के मौसम की स्थिति को देखकर प्रशासन अपने स्तर पर निर्णय ले। लगता है कि मौसम ऐसा है कि उम्मीदवारों को गर्म कपड़े पहनकर प्रवेश देने की अनुमति देना चाहिए तो प्रशासन उसे लागू कर सकता है। नियमावली में इसका उल्लेख कर दिया गया है।