Loading...

MPPSC 2019: पूरे मध्यप्रदेश में स्वेटर, जूते-मोजे पहनकर परीक्षा दे सकते हैं उम्मीदवार

भोपाल। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा के उम्मीदवार जो दिनांक 12 जनवरी को परीक्षा देने वाले हैं, स्वेटर एवं जूते-मोजे पहनकर परीक्षा दे सकते हैं। मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। इसके साथ ही परीक्षा प्रबंधन में शामिल अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि वह प्रत्येक परीक्षार्थी की कम से कम 2 बार फ्रिस्किंग (अच्छे से टटोलकर जांच करना) करें। यह सुनिश्चित करें कि इस राहत के एवज में नकल की कतई संभावना ना हो।

मध्य प्रदेश में पहली बार राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा सर्दी के मौसम में आयोजित हो रही है। परीक्षा दो पालियों में सुबह 10 से दोपहर 12 बजे तक तथा दोपहर 2.15 से शाम 4.15 बजे तक होगी। परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्रों पर आधे घंटे पहले पहुंचना होगा। सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि परीक्षा केंद्रों में परीक्षार्थी को प्रवेश कड़ी सुरक्षा जांच के बाद ही दिया जाए। परीक्षार्थियों की मुख्यद्वार पर कड़ी तलाशी की जाए। कोई भी परीक्षार्थी प्रतिबंधित वस्तुएं लेकर प्रवेश न कर सके। परीक्षा कक्ष के भीतर प्रवेश देने के पूर्व परीक्षार्थियों की दोबारा तलाशी करें। साथ ही महिला परीक्षार्थियों की तलाशी केवल महिला सुरक्षा कर्मियों से कराएं।

यह वस्तुएं रहेंगी प्रतिबंधित

हाथ में पहनने वाली घड़ी, बैंड, कलावा, रक्षा सूत्र, सभी प्रकार के आभूषण, कमर में बांधने वाले बेल्ट, पर्स, वॉलेट, बालों को बांधने वाले क्लैचर, बैंड, टोपी तथा मुंह में कपड़ा बांधकर परीक्षा केंद्रों में प्रवेश प्रतिबंधित है। परीक्षा केंद्रों के भीतर मोबाइल फोन, कैल्कुलेटर, किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण एवं पठन सामग्री नहीं ले जाई जा सकेगी।