Loading...

मध्यप्रदेश में भड़काऊ वीडियो वायरल करने वाले के खिलाफ रासुका की कार्रवाई | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के उज्जैन में पुलिस ने भड़काऊ वीडियो वायरल करने वाले भाजपा नेता के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की है। भारतीय जनता युवा मोर्चा के नगर महामंत्री योगेश सांगते को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्हें उज्जैन से रीवा जेल भेज दिया गया है। 

महाकाल मंदिर के प्रशासक ने शिकायत की थी

महाकाल मंदिर के बाहर मंगलवार को शहर के 65 समाजों के प्रतिनिधियों ने प्रदर्शन किया था। इसमें बेगमबाग मार्ग पर CAA के विरोध में चल रहे धरने से महाकाल मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं की परेशानी से प्रशासन को अवगत कराया था। इस दौरान सांगते ने बेगमबाग फोरलेन आवागमन के लिए खाली कराने की मांग करते हुए भाषण दिया था। इस भाषण का वीडियो उन्होंने सोशल मीडिया पर वायरल किया। महाकाल मंदिर प्रशासक सुजान सिंह रावत ने इसकी पुलिस से शिकायत की।

भड़काऊ भाषण देने के लिए धारा 153 ए के तहत मामला दर्ज

वीडियो में सांगते मंदिर प्रशासन, मुख्यमंत्री को अपशब्द कहते हुए नजर आए। साथ ही साउंड सिस्टम को लेकर धार्मिक भावना भड़काने वाले शब्द कहे। शिकायत के बाद पुलिस की सायबर सेल प्रभारी राजाराम वास्कले ने सांगते के ठिकानों पर छापेमारी की और गिरफ्तार कर लिया। महाकाल पुलिस ने सांगते के खिलाफ धारा-144 के उल्लंघन समेत धार्मिक भावना भड़काने पर धारा-153 ए में केस दर्ज किया।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि उज्जैन में निर्णायक लड़ाई करेंगे

घटना को लेकर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने शासन-प्रशासन को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा- नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के नाम पर प्रदेश की कांग्रेस सरकार संविधान की मर्यादाएं तोड़ रही है। कानून व्यवस्था की आड़ में भाजपा कार्यकर्ताओं और अनुसूचित जाति के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है। महाकाल मंदिर का रास्ता रोकने का दुस्साहस हुआ। पुलिस ने उसे खुलवाने के कोई प्रयास नही किए। जब इसका वाल्मीकि समाज के युवक ने शाब्दिक विरोध किया तो उसे गिरफ्तार कर लिया। वह वाल्मीकि समाज से आता है, केवल इसलिए सरकार उसका दमन नहीं कर सकती। भाजपा इसका पुरजोर विरोध करती है। मैं चेतावनी देता हूं कि यदि जल्द महाकाल का रास्ता नहीं खोला और सांगते पर अन्याय को नहीं रोका तो भाजपा निर्णायक लड़ाई के लिए उज्जैन की सड़कों पर उतरेगी।