मुरार अस्पताल के डॉक्टर ने आत्महत्या की | GWALIOR NEWS
       
        Loading...    
   

मुरार अस्पताल के डॉक्टर ने आत्महत्या की | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। महाराजपुरा क्षेत्र के आदित्यपुरम में आयुर्वेदिक डॉक्टर ने पत्नी व बच्चों को सोता छोड़कर दूसरे कमरे में जाकर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। सुबह जब पति अपने कमरे में नहीं दिखे तब पत्नी उन्हें तलाशते हुए दूसरे कमरे में पहुंचीं। यहां देखा कि पति फांसी पर लटके थे। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और पड़ताल के बाद मर्ग कायम कर शव को जांच के लिए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के कमरे में कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने खुदकुशी के कारणों की जांच शुरू कर दी है। 

थाना प्रभारी मिर्जा आसिफ बैग ने बताया कि डॉ. दिनेश राजपूत(35) पुत्र राजेंद्र सिंह राजपूत (Dr. Dinesh Rajput son Rajendra Singh Rajput) निवासी रिलायंस पेट्रोल पंप के पास आदित्यपुरम ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। डॉक्टर की पदस्थापना हस्तिनापुर अस्पताल में थी और वह मुरार में अटैच थे। सोमवार की रात वह पत्नी और बच्चों के साथ खाना खाकर सोए थे। सुबह लगभग 6 बजे दिनेश की पत्नी रिंकी की नींद खुली, तब दिनेश कमरे में नहीं थे। रिंकी को पहले लगा कि वह वॉशरूम गए होंगे, जब दिनेश वापस नहीं आए तो रिंकी ने उन्हें वॉशरूम में देखा तब वह वहां नहीं थे। इसके बाद नीचे की मंजिल पर सास-ससुर के कमरे में देखने के बाद वह ऊपरी मंजिल पर बने कमरे में पहुंचीं तो दिनेश फांसी पर लटके थे। 

शोर सुनकर सास-ससुर और पड़ोसी वहां पहुंचे। दिनेश की नब्ज टटोली तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने पड़ताल के बाद मर्ग कायम कर लिया है। मृतक डॉक्टर के दो बच्चे हैं जिनमें बड़ी बेटी राशि(8) व छोटा नैतिक(2) है।