सीएम सर, वर्दीधारी भर्ती में आयुसीमा 35 वर्ष करना था, कंफ्यूजन दूर कीजिए | KHULA KHAT TO CM KAMAL NATH
       
        Loading...    
   

सीएम सर, वर्दीधारी भर्ती में आयुसीमा 35 वर्ष करना था, कंफ्यूजन दूर कीजिए | KHULA KHAT TO CM KAMAL NATH

श्रीमानजी, जैसा कि विगत 2017 के बाद कोई भी वर्दीधारी पद नही आया, व आखरी भर्ती पुलिस उपनिरीक्षकों (subinspector) की 2017 मैं हुई जिसकी आयु सीमा 33वर्ष थी सामान्य वर्ग की। उसके बाद कोई वर्दीधारी पद नही आया। हर वर्ष वर्दीधारी पद आते थे, अपितु 2017 से नही आये, उश समान जो युवा 32वर्ष का था वो आज 34वर्ष का हो गया, 33वर्ष वाला जिसके पास आखरी मौका था वो आज 35वर्ष का हो गया। इन 3 वर्षों में भर्ती न आने के कारण 2 लाख युवा परीक्षा से वंचित हो रहा है जो कि कारण 2017 से भर्ती न आने के कारण है। अपितु सरकार द्वारा कहा जा रहा है कि हम वर्दीधारी पदों की आयु सीमा 33 वर्ष कर रहे है।

श्रीमान 33वर्ष तो पहले से ही आयु सीमा थी, जो कि सामान्य प्रशासन विभाग के पात्र क्रमांक 3-8/2016/1/3 मैं स्पष्ट उल्लेख करता है। अतः युवाओ को ये समझ नही आ रहा है कि जब आयु सीमा 33 वर्ष पहले से ही है तो सरकार कौन सी 33 वर्ष कर रही है। अपितु सरकार ने इन 3 सालों मैं भर्ती नही आने के कारण बोला था कि आयु सीमा वचनपत्र के बिंदु 8.5के अनुसार हम 2वर्ष बड़एँगे, जिससे जो उम्मीदवार भर्ती न आने के कारण overage हुए है, उनको मौका मिल सके।

युवाओ द्वारा सरकार से ये मांग भी की जा रही है कि सरकार आयु की गणना वर्ष 2017 से करे, जिससे जो उम्मीदवार परीक्षा से वंचित हो रहे है, उन्हें परीक्षा मैं सम्मलित होने का आखरी मौका मिल सके। युवाओ द्वारा ये कहा जा रहा है कि  हम भी मध्यप्रदेश के युवा ही है हमने भी सरकार को वोट दिया है हमारे साथ अन्याय क्यों।

नोट-वर्दीधारी पदों की आयु सीमा 35 वर्ष करने का ड्राफ्ट gad डिपार्टमेंट ने cm महोदय के पास भेज दिया है। अब समस्या ये है कि एक माह हो गए अभी तक हस्ताक्षर नही हुए, अब भर्ती जल्द ही आने वाली है और युवाओ को ये डर सता रहा है कि वो कैसे अब परीक्षा मैं सम्मलित होंगे।आप सहयोग कीजिये।जिससे बच्चो के अंधकार होते भविष्य मे रोशनी आ सके।
धन्यवाद, सभी प्रतीक्षारत उम्मीदवार