Loading...

एशिया कप 2020: बेइज्जत हुआ पाकिस्तान, मेजबानी छिन गई क्योंकि नाराज थे मेहमान | ASIA CUP 2020

नई दिल्ली। सारी दुनिया के सामने एक बार फिर पाकिस्तान बेइज्जत हुआ है। क्रिकेट के एशिया कप 2020 की मेजबानी पाकिस्तान के पास थी परंतु मेहमानों की नाराजगी के चलते पाकिस्तान से मेजबानी का हक छीन लिया गया। भारत की क्रिकेट टीम ने फैसला किया था कि यदि एशिया कप 2020 का आयोजन पाकिस्तान में हुआ तो भारत की टीम उसमें शामिल नहीं होगी। 

भारत की टीम को एशिया कप 2020 में बनाए रखने के लिए पाकिस्तान से मेजबानी छीन ली गई। एशिया कप के वैकल्पिक आयोजन स्थल की घोषणा बाद में की जाएगी। बांग्लादेश, श्रीलंका या दुबई में इस टूर्नामेंट को आयोजित किया जा सकता है। इस साल इस टूर्नामेंट को आयोजन टी20 फॉर्मेट में किया जाना है। ऐसा इसलिए होगा क्योंकि इसके एक महीने बाद ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड कप 2020 होना है।

2008 के बाद से एशिया कप की मेजबानी नहीं कर पाया पाकिस्तान

पाकिस्तान में अंतिम बार एशिया कप का आयोजन 2008 में किया गया था। एशिया कप का पिछला संस्करण 2018 में संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित किया गया था। इसमें भारत ने खिताब हासिल किया था। एशिया कप में भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश और अफगानिस्तान की टीमें प्रमुख रूप से हिस्सा लेती हैं।

पाकिस्तान में नहीं तो अब कहां होगा क्रिकेट का एशिया कप टूर्नामेंट

चूंकि पाकिस्तान को इस एशिया कप की मेजबानी दी गई है, इसके चलते अब इस टूर्नामेंट के यूएई में आयोजित किए जाने के अवसर बढ़ गए हैं। पाकिस्तान पिछले कुछ सालों से अपने इंटरनेशनल मैचों का आयोजन यूएई में करता रहा है।

एशिया कप क्रिकेट: पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की डेड लाइन से पहले ही फैसला हो गया

पिछले साल पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ने कहा था कि उसने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को एशिया कप में हिस्सेदारी पर अंतिम फैसला लेने के लिए जून 2020 तक का समय दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इससे पहले ही अब यह तय हो गया कि भारत अपनी टीम को पाकिस्तान नहीं भेजेगा जिसकी वजह से इस आयोजन को पाकिस्तान के अलावा किसी अन्य देश में कराया जाएगा।