सुन लो कमलनाथ, हम इंदिरा जी से नहीं डरे तुम किस खेत की मूली हो: शिवराज सिंह चौहान | MP NEWS
       
        Loading...    
   

सुन लो कमलनाथ, हम इंदिरा जी से नहीं डरे तुम किस खेत की मूली हो: शिवराज सिंह चौहान | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सागर जिला मुख्यालय में कमलनाथ सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदर्शन के दौरान जोर देकर कहा ‘सुन लो कमलनाथ, हम इंदिरा जी से नहीं डरे, इमरजेंसी के समय जेलों में रहे, तुम किस खेत की मूली हो।’ पिछले दिनों किसानों के साथ धरना दे रहे भाजपा विधायक प्रदीप लारिया के खिलाफ पुलिस ने आपराधिक प्रकरण दर्ज कर लिया था। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि वह भी प्रदर्शन कर रहे हैं उनके खिलाफ भी मामला दर्ज करें और सब की गिरफ्तारी कर ले। इस प्रदर्शन में शिवराज सिंह चौहान के साथ नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव भी मौजूद थे।

पुलिस ने विधायक के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया था

ट्रैक्टर में सवार होकर पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, नरयावली विधायक प्रदीप लारिया के साथ मकरोनिया थाने में गिरफ्तारी देने पहुंचे, उनके साथ बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता भी गिरफ्तारी देने पहुंचे। थाने से पहले ही बैरिकेट्स लगाकर पुलिस ने सभी को रोकने की कोशिश की। पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि या तो यूरिया की कमी पूरी कर दो या फिर जेल में रहने की व्यवस्था कर दो। उन्होंने इमरजेंसी के दौरान जेलों में रहने का हवाला देते हुए प्रदेश सरकार से 2,35,000 करोड़ के बजट का हिसाब मांगा। उन्होंने कहा कि सरकार 2 लाख रुपयों का कर्जामाफ करने की बात कर रही है लेकिन वास्तव में किसान डिफाल्टर हो गए हैं।

यूरिया की कालाबाजारी का आरोप

शिवराज ने आरोप लगाया कि प्रदेश में यूरिया की कालाबाजारी हो रही है। उन्होंने कहा कि एक बोरी यूरिया 1700 रुपए में और डीएवीपी 1200 की बिक रही है। शिवराज ने आरोप लगाया कि प्रदेश में 250 की खाद 500 रुपयों में बिक रही है। उन्होंने प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि किसानों की आवाज दबने नहीं देंगे। शिवराज ने इस दौरान बिजली के बिलों की होली भी जलाई।