Loading...

पड़ोसन को डायन समझ कर हत्या कर दी | MP NEWS

खरगोन। डायन होने की आशंका में आरोपी भोमला उर्फ विक्रम पिता मनु (32)(Bhomla alias Vikram father Manu) निवासी बोम्या ने महिला की हत्या की थी। बोम्या में 28 नवंबर को लक्ष्मीबाई पति रमेश वास्कले (Lakshmibai husband Ramesh Vaskal) (45) की हत्या हुई थी। महिला के घर के आसपास रहने वाले भोमला ने महिला के सिर पर फावड़ा मारकर हत्या की थी। आरोपी ने बताया उसकी पत्नी व बेटी हमेशा बीमार रहते हैं। वहीं एक महीने पहले उसका भाई पेड़ से गिरकर घायल हो गया था। इसके चलते उसे महिला पर टोटके किए जाने की आशंका थी। सोमवार को पुलिस कंट्रोल रूम पर एसपी डीआर तेनीवार ने मामले का खुलासा किया।

जांच के दौरान पुलिस ने शव के पास सेफ्टी पिन, बाल, गमछा व अन्य सामग्री जब्त की थी। मृतका के घर पर विभिन्न स्थानों से फिंगर प्रिंट भी लिए थे। वहीं मुखबिर ने सूचना दी थी कि 28 नवंबर की सुबह 11 बजे के आसपास आरोपी महिला के घर के पास दिखा था। दोपहर 12 बजे के आसपास महिला की हत्या हुई थी। इसके बाद उससे सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने महिला की हत्या करना कबूल किया। उसके कब्जे से फावड़ा व खून से सने कपड़े जब्त किए हैं। वहीं घटना दिनांक को गांव में पगड़ी का कार्यक्रम था। इसमें बकरों की बली दी गई थी। 

आरोपी ने सोचा था कि कपड़ों पर खून देखकर कोई पूछताछ करेगा तो वह बकरे की बली देने के दौरान कपड़ों पर खून लगना बता देगा। बावजूद वह पुलिस गिरफ्त में आ गया। एसपी ने टीम को पुरस्कार देने की घोषणा की है। टीम में टीआई राजेश यादव, एसआई मोहनसिंह डावर, हिरूसिंह, एफएसएल अधिकारी बीएस बघेल, फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट वीरेंद्र बर्डे, जानी चारेल, रितेश खत्री, रेणुका राठौड़, शिवराम, जगजोध, बलवीर, अंतरसिंह, सुरेंद्र, राजवीर, रेशम, संदीप पाटीदार, योगेश पाटील, गुरुदत्त निकुम शामिल थे। एसडीओपी एएस जमरा मौजूद थे।