नाप तौल निरीक्षक पंकज कनोडिय़ा रिश्वत लेते गिरफ्तार, पैसे लेने छुट्टी के दिन खोला था ऑफिस | MP NEWS
       
        Loading...    
   

नाप तौल निरीक्षक पंकज कनोडिय़ा रिश्वत लेते गिरफ्तार, पैसे लेने छुट्टी के दिन खोला था ऑफिस | MP NEWS

आगर-मालवा। पेट्रोल पम्प पर होने वाली नाप तौल प्रक्रिया के अंतर्गत स्टेपिंग (मशीनों पर नाप तौल विभाग की सील) लगाने के लिए जिला नाप तौल निरीक्षक द्वारा एक पेट्रोल पम्प संचालक से 96 हजार रुपए की रिश्वत बुधवार को मांगी गई। इस पर लोकायुक्त पुलिस उज्जैन द्वारा नाप तौल निरीक्षक पंकज कनोडिय़ा (Measurement weights inspector Pankaj Kanodiya) को 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों धर दबोचा। 

लोकायुक्त पुलिस द्वारा पंकज कनोडिय़ा के इंदौर बिचोली मर्दाना स्थित सर्वसुविधा नगर में बने घर पर भी जांच की गई। जीरापुर रोड मोड़ी तहसील सुसनेर में स्थित मां गायत्री फिलिंग स्टेशन पेट्रोल पम्प (Gayatri Filling Station Petrol Pump) संचालक सुरेश रातडिय़ा (Suresh Ratdiya) पेट्रोल पम्प की मशीनों पर नाप तौल विभाग के नियमों के अनुरूप स्टेपिंग करवाने के लिए जिला मुख्यालय पर स्थित नाप तौल कार्यालय में पदस्थ निरीक्षक पंकज कनोडिय़ा से सम्पर्क किया तो उन्होने पूरी प्रक्रिया के लिए कुल 96 हजार रुपए बतौर रिश्वत के मांगे। निरीक्षक द्वारा मांगी गई इतनी बड़ी रकम को तीन हिस्सों में देने का करार करते हुए सुरेश रातडिय़ा ने पहली किस्त के रूप में 25 हजार रुपए पहले दे दिए और दूसरी किस्त देने से पहले रातडिय़ा ने लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक उज्जैन राजेश कुमार मिश्र को पूरे घटनाक्रम से अवगत करा दिया

पीडि़त एवं पम्प संचालक सुरेश रातडिय़ा ने बताया कि पम्प पर स्थित मशीनों में पेट्रोल, डीजल के मॉप को निर्धारित करने के लिए स्टेपिंग नाप तौल विभाग द्वारा की जाती है। इसी प्रक्रिया को विधिवत पूर्ण करने के लिए मेरे द्वारा इनसे सम्पर्क किया गया था तो प्रक्रिया के लिए इन्होने 96 हजार रुपए की मांग करते हुए 12 हजार रुपए महीना बतौर रिश्वत भी मांगी। परेशान होकर मैने लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक से सम्पर्क किया।
कनोडिय़ा की वास्तविकता की जांच के लिए लोकायुक्त पुलिस की एक टीम बुधवार को ही इंदौर स्थित आवास पर भी पहुंची और जांच पड़ताल की। आगर में कार्रवाई हो जाने के बाद डीएसपी शैलेन्द्रसिंह ठाकुर नाप तौल निरीक्षक पंकज कनोडिय़ा को अपने साथ लेकर इंदौर स्थित कनाडिय़ा के घर के लिए रवाना हुए।

लोकायुक्त टीम द्वारा की गई इस कार्रवाई को लेकर मौके पर मौजूद विभिन्न व्यवसाईयों द्वारा डीएसपी लोकायुक्त को धन्यवाद देते हुए कहा कि नाप तौल निरीक्षक से हम लोग बहुत परेशान हो चुके हैं इन पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। इस कार्यालय के हालात यह है कि सामान्य दिनो में यहां काम नही होते हैं और रिश्वत लेने के लिए अवकाश के दिन भी कार्यालय खोल लिया जाता है।

'ग्राम मोड़ी सुसनेर में स्थित एक पेट्रोल पम्प के संचालक से नाप तौल निरीक्षक पंकज कनोडिय़ा द्वारा स्टेपिंग करने के नाम पर रिश्वत की मांग की गई थी 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए नाप तौल निरीक्षक को रंगे हाथों पकड़ा है। साथ ही इंदौर स्थित इनके घर पर भी सम्पत्ति से संबंधित जांच की जा रही है। -शैलेन्द्रसिंह ठाकुर, डीएसपी लोकायुक्त पुलिस उज्जैन