पॉलीटेक्निक अतिथि व्याख्याता भोपाल पहुंचे, अतिथि विद्वानों के प्रदर्शन में शामिल | MP NEWS
       
        Loading...    
   

पॉलीटेक्निक अतिथि व्याख्याता भोपाल पहुंचे, अतिथि विद्वानों के प्रदर्शन में शामिल | MP NEWS

भोपाल। प्रेस को जारी विज्ञप्ति में संगठन सचिव दिनेश कुमार सेन ने बताया कि पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याताओं पैदल यात्रा के तीसरे दिन भोपाल में विगत दिवस साँची बौद्ध स्तूप से शुरू की पद यात्रा जारी है। विदित हो कि नियमतिकरण के लिये सामूहिक संकल्प के साथ नियमितीकरण भविष्य सुरक्षा अधिकार यात्रा के साथ तिरंगा लेकर घंटानाद ध्वनि के साथ यात्रा की शुरुआत की गई है।

चुनाव से पूर्व कांग्रेस के वचन पत्र में नियमितीकरण वादे के उलट गेट एग्जाम के माध्यम से भर्ती की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है जबकि पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याताय विगत 5 वर्षों से नियमितीकरण को लेकर लगातार आंदोलन कर रहे हैं और यात्रा आज भोपाल में प्रवेश हुई जो भानपुरा से होती हुई शाहजहानी पार्क में पहुँचकर उच्च शिक्षा के अतिथि विद्वान धरना दे रहे अतिथि विद्वानों के मंच पर पहुँचकर संघठन अध्यक्ष अखिलेश सेन ने नियमितीकरण की सांझा कर समर्थन देते हुए, संघर्ष करने की बात कही। जब तक सरकार नियमितीकरण का आदेश जारी नही कर देती, तब तक अधिकार रूपी संघर्ष अभियान जारी रहेगा।

नियमितीकरण के वचन निभाने की मांग करते हुए पैदल मार्च कर रहे पॉलिटेक्निक अतिथि जैसे ही यात्रा लेकर, शाहजहानी पार्क से आगे बढे, बैसे ही भोपाल पुलिस प्रशासन से यात्रा एवं आगामी प्रर्दशन हेतु अनुमति एवं अन्य औपचारिकताओं को पूर्ण करने को लेकर बहस हुई, थोड़ी ही देर वाद वरिष्ठ पुलिस प्रशासन अधिकारियों द्वारा साँची से भोपाल तक पैदल मार्च कर रहे नियमितीकरण भविष्य सुरक्षा अधिकार यात्रा को सुरक्षा घेरे में आगे शहर के नीलम पार्क के नजदीक छोड़ा गया। 

यात्रा के तीसरे दिन में ग्वालियर, भोपाल, रायसेन, बैढन, शिवपुरी, भिंड, सीहोर,आगर- मालवा, हरदा, खरगौन, से पॉलीटेक्निक अतिथि व्याख्याता शामिल हुए। जिसमे मुख्य रूप से अध्यक्ष अखलेश सेन, उपाध्यक्ष निशान्त चौरसिया,आंदोलन समिति के संयोजक विजय कुमार याग्निक,रवि खटीक, सहसचिव प्रकाश चंद्र दुबे,समस्त जिला एवं संभाग संयोजक देवीदीन अहिरवार, ऋषभ पटसारिया, देवेंद्र त्रिपाठी, अमित तिवारी, समीर मुलताई, महेंद्र अहिरवार, धर्मेंद्र गुर्जर,संजीव गिरी,रविंद्र सिहमरावी,मनीष पटेल सहित अन्य अतिथि व्याख्याता शामिल मुख्य रुप से शामिल हुए।