Loading...

जुम्मे की नमाज के बाद जबलपुर में हिंसा भड़की, पथराव, पुलिसकर्मी घायल, कर्फ्यू लगा | JABALPUR NEWS

जबलपुर। शहर के रद्दी चौक क्षेत्र में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का विरोध कर रहे लोगों ने पथराव कर दिया, जिससे कई पुलिस कर्मी जख्मी हो गए। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठियां भी भांजी, जिससे तितर बितर हो गई। इसके बाद जबलपुर शहर के चार थाना क्षेत्रों में एहतियात के तौर पर कर्फ्यू लगा दिया गया है। 

कलेक्टर भरत यादव ने कानून व्यवस्था के मद्देनजर शनिवार यानि 21 दिसंबर जिले के सभी स्कूल एवं आंगनवाड़ी केंद्रों को बंद रखने का आदेश जारी किया है। मिली जानकारी के अनुसार, जबलपुर में सीएए और एनआरसी के विरोध प्रदर्शन के दौरान पुलिस को प्रदर्शनकारियों के खिलाफ बल प्रयोग करना पड़ा। जुमे की नमाज के बाद पुलिस ने रानी ताल इलाके, घमापुर चौक, भान तलैया, मंडी मदार टेकरी में सख्त सुरक्षा व्यवस्था रखी थी। गोहलपुर थाना क्षेत्र में 2 हजार से ज्यादा लोग सड़क पर उतर आए। 

गोहलपुर थाना के रद्दी चौकी के पास CAA के विरोध में प्रदर्शन कर रहे लोगों को पुलिस ने रोका तो वह उग्र हो गए और पथराव शुरू कर दिया। इस अचानक पथराव से पुलिस के जवानों को सिर में चोटें आईं और कई अन्य जख्मी हो गए। इसके बाद पुलिस सख्ती करते हुए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठियां भी भांजकर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया। दोपहर बाद कुछ क्षेत्रों में हुए पथराव के बाद सतर्कता के बतौर शहर के चार थाना क्षेत्रों में गोहलपुर और हनुमानताल के पूरे थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है। 

वहीं कोतवाली के मिलौनीगंज और आधारताल थाने के मोहरिया एवं आनंद नगर क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया है। कलेक्टर भरत यादव एवं पुलिस अधीक्षक अमित सिंह पुलिस बल के साथ क्षेत्र का लगातार भ्रमण कर रहे हैं। स्थिति फिलहाल नियंत्रण में है। संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है।