भारत में CAA की आग भड़का कर, खतरनाक साजिश रच रहा है पाकिस्तान, कारगिल युद्ध जैसे हालात
       
        Loading...    
   

भारत में CAA की आग भड़का कर, खतरनाक साजिश रच रहा है पाकिस्तान, कारगिल युद्ध जैसे हालात

नई दिल्ली। दो बार सर्जिकल स्ट्राइक और अंतर्राष्ट्रीय मंच पर धारा 370 की लड़ाई हार चुके पाकिस्तान की सरकार भले ही अपने देश में महंगाई के खिलाफ कोई लड़ाई लड़ रही हो या नहीं लड़ रही हो लेकिन भारत के खिलाफ साजिश रचने में अपना समय और पैसा लगातार खर्च कर रही है। सूत्रों के अनुसार भारत में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ सुलग रही आग को भड़काने के लिए पाकिस्तान ने काफी पैसा खर्च किया और बॉर्डर पर चुपके से एक खतरनाक साजिश को अंजाम देने की कोशिश करने लगा। एलओसी से खबर आ रही है कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में पाकिस्तानी सेना की हलचल काफी तेज हुई है। यह गंभीर स्थिति तक पहुंच गई है।

सीमा पर करगिल युद्ध जैसे हालात

लाइन ऑफ कंट्रोल पर तैनात भारतीय सेना की दूरबीन से देखा गया कि नीलम वैली में भारत (India) और पाकिस्तान की ओर से की जा रही फायरिंग के बीच एलओसी पर भी पाकिस्तानी सेना लगातार तोपो की संख्या बढ़ा रही है। खबर है कि पिछले 10 दिनों के अंदर एलओसी पर सैन्य वाहनों के लंबे-लंबे काफिले भारी तोपों के साथ पहुंच रहे हैं। इससे पहले इस तरह की हलचल कारगिल युद्ध के समय ही देखने को मिली थीं। पाकिस्तानी सेना की तमाम रिजर्व टुकड़ियां भी एलओसी के आसपास कैंप बना रही हैं।

हथियारों को प्लास्टिक शीट में छुपाकर एलओसी तक लाया जा रहा है

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पहले ही शक जताया है कि भारत पीओके पर कभी भी हमला कर सकता है। पाकिस्तानी सेना ने इसी डर को भांपते हुए भारी संख्या में आर्टिलरी हथियार एलओसी भेज दिए हैं। बताया जा रहा है कि इन हथियारों को प्लास्टिक शीट्स से कवर कर एलओसी की तरफ लाया गया है।

पाकिस्तानी सैन्य अधिकारी का ऑफिशल स्टेटमेंट

पाकिस्तान सेना के एक अधिकारी ने बताया कि अगर भारत ने पीओके में आगे बढ़ने की कोशिश की तो पाकिस्तानी सेना के पास उसे रोकने के अलावा कोई चारा नहीं होगा। यही कारण है कि सेना की रिजर्व टुकड़ियों को एलओसी पर भेजा जा रहा है।

पीओके के नागरिकों को बनाया जा रहा ढाल
पाकिस्तानी सेना ने भारत के हमले से बचने के लिए एक बार फिर पीओके के नागरिकों को ढाल बनाने की नापाक कोशिश की है। लोगों में पाक सेना के प्रति बढ़ रहे अविश्वास को देखते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान ने एलओसी में बसे लोगों की आर्थिक मदद करने का ऐलान किया है। हालांकि इस आर्थिक मदद लेने वाले परिवार के लिए शर्त रखी गई है कि वह पीओके को छोड़कर कहीं भी नहीं जाएंगे। बताया जा रहा है एलओसी के दायरे में आने वाले 33,498 परिवार को हर महीने 1546 पाकिस्तानी रुपये देने का ऐलान किया है।