युवती का अपहरण कर 17 दिनों तक सामूहिक बलात्कार किया, फिर हाईवे पर फेंका | GWALIOR NEWS
       
        Loading...    
   

युवती का अपहरण कर 17 दिनों तक सामूहिक बलात्कार किया, फिर हाईवे पर फेंका | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। मालनपुर थाना क्षेत्र के घिरोंगी गांव में चार पहिया गाड़ी से आए चार बदमाशों ने एक महिला से कहा- तुम्हारे पति की तबियत खराब है। वह देखने बाहर आई तो उसे जबरन गाड़ी में डाल लिया। इसके बाद 17 दिन तक उसके साथ गैंगरेप (Gangrape) किया, फिर उसे हाईवे (भिंड-ग्वालियर रोड) किनारे फेंक गए। पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।  

घिरोंगी गांव की 24 वर्षीय महिला ने मालनपुर पुलिस को बताया कि आठ अगस्त की रात करीब 11 बजे टीन का पुरा निवासी मुकेश गुर्जर, अशोक गुर्जर, अलापुरा निवासी सुरेश गुर्जर व रमौआ का पुरा निवासी नाथू सिंह गुर्जर (Mukesh Gurjar, Ashok Gurjar, Suresh Gurjar resident of Alapura and Nathu Singh Gurjar, a resident of Ramaua) चार पहिया गाड़ी से उसके घर आए और बोले- तुम्हारे पति की तबियत ज्यादा खराब है। वे गाड़ी में लेटे हैं। ऐसे में उक्त महिला जब पति को देखने घर से बाहर गाड़ी तक आई तो चारों ने उसे जबरन गाड़ी में बिठा लिया और उसे ग्वालियर ले गए जहां चारों ने बारी-बारी उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। 

यह सिलसिला 17 दिनों तक चला। इसके बाद उक्त लोगों ने महिला को 24 अगस्त की दोपहर एक बजे नेशनल हाईवे-92 के भिंड ग्वालियर रोड पर बरेठा पुल के पास फेंक दिया। साथ ही धमकी दी कि यदि किसी को कुछ बताया तो जान से खत्म कर देंगे। ऐसे में महिला डर गई। इस घटना के तीन महीने बाद ने पीड़ित महिला ने अपने चचिया ससुर के साथ मालनपुर थाना पहुंचकर शिकायत की। पुलिस ने भी चारों आरोपी टीन का पुरा निवासी मुकेश गुर्जर, अशोक गुर्जर, अलापुरा निवासी सुरेश गुर्जर व रमौआ का पुरा निवासी नाथू सिंह गुर्जर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।