Loading...

'बहन की हत्या कर दो तभी वापस आउंगी' नवविवाहिता बोली | MP NEWS

बदनावर। जनपद पंचायत सभागृह में मंगलवार को हुई जनसुनवाई में जनसुनवाई में लुटेरी दुल्हन का मामला प्रकाश में आया है। गांव एवं महाराष्ट्र के लोगों ने मिलकर युवक से विवाहिता का ब्याह करा दिया। नकद राशि एवं गहने हड़प लिए और अब उसे ब्लैकमेल कर रहे हैं। महिला मायके जाकर पति को कह रही है कि पहले तुम्हारी बहन की हत्या कर दो तभी आउंगी।

काछी बड़ोदा के मंगलसिंह पिता भेरूसिंह (Mangalsingh father Bherusingh) ने आवेदन देकर बताया कि गांव के ही अशोक पिता गोवर्धन, गीताबाई पति अशोक, गोवर्धन पिता  महाराष्ट्र के शारदा पति विजय, बेबी पति दादराव, पूंजा पिता दादराव एवं बालापुर के समरजहां पिता शेखरिहात ने योजना बनाकर मंगलसिंह से मिले और कहा कि तुम्हारा ब्याह नहीं हो रहा है हम करा सकते हैं। आरोपियों ने शारदा से मिलवाया और शेेगांव ले जाकर 12 अक्टूबर 2018 को स्टांप पर लिखापढ़ी करवाकर विवाह करवाया और एक लाख रुपए लिए। आरोपी अशोक, गीताबाई एवं गोवर्धन तीनों के साथ शारदा को लेकर काछीबड़ोदा आ गए। शारदा चार माह तक साथ रही। इस बीच 900 ग्राम चांदी के कड़े, 800 ग्राम चांदी की पायजेब एवं 5 ग्राम सोने के सुलिए लाकर दिए। 

16 हजार रुपए नकद भी दिए। बाद में शारदा ने कहा कि वह परिजन से मिलना चाहती है और चार पांच दिनों में वापस आ जाएगी। इस पर उसे शेगांव जाकर छोड़ दिया। वापस लेने गया तो कहा कि पहले तुम्हारी बहन की हत्या कर दो तभी आउंगी। कुछ दिनों बाद कोर्ट का नोटिस मिला तो पता चला कि शारदा विजय ठाकरे की पत्नी है और उसकी एक पुत्री भी है। अब वह जब तारीख पर जाता है तो परेशान कर राशि ली जा रही है और फंसाने की धमकी भी दी जा रही है। आवेदन में मंगल ने बताया कि परेशान होकर 10 अगस्त 2019 को बदनावर पुलिस में आवेदन किया था। 

कार्रवाई के अभाव में आरोपियो के हौंसले बुलंद है और परेशान कर लाखों रुपए की मांग कर रहे हैं। जनसुनवाई में आवेदन में योग्य कार्रवाई करने एवं राशि आरोपियों से दिलवाने की मांग की है। जनसुनवाई में एसडीएम नेहा साहू ने जनसुनवाई की। तहसीलदार वायएस मोर्य, नायब तहसीलदार मनीष जैन, रवि शर्मा, सीईओ तीजा पंवार मौजूद थे।