Loading...

आदिम जाति का जिला संयोजक साबित खान रिश्वत लेते गिरफ्तार: लोकायुक्त | MP NEWS

पन्ना। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में पदस्थ आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक साबित खान को लोकायुक्त पुलिस की सागर टीम ने गिरफ्तार कर लिया। लोकायुक्त पुलिस का दावा है कि आदिम जाति कल्याण विभाग के अधिकारी साबित खान छात्रावास प्रभारी से रिश्वत मांग रहे थे। उन्हें रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। साबिर खान के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है।

छात्रावास में साइकिल स्टैंड का बजट पास करने के बदले मांगा था कमीशन 

मध्यप्रदेश में निर्माण कार्यों की स्वीकृति के बदले ली जाने वाली रिश्वत को कमीशन कहा जाता है। आरोप है कि श्रीमती कृष्णा सोनी जोकि कन्या पोस्टमैट्रिक छात्रावास की अधीक्षक है, द्वारा लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक सागर से शिकायत की थी। शिकायत में कहा गया था कि छात्रावास में साईकिल स्टैंड का निर्माण कार्य करीब 6 माह पूर्व स्वीकृत हुआ था जिसकी कुल स्वीकृत राशि 1 लाख 87 हजार रूपये पर 15 प्रतिशत की राशि रिश्वत के रूप में आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक द्वारा मांगी जा रही है और राशि नही देने पर उनके द्वारा परेशान किया जा रहा है। 

साबित खान का स्वास्थ्य खराब के चलते डॉक्टर की टीम मौके पर बुलाई गई

लोकायुक्त पुलिस द्वारा अधीक्षिका की शिकायत का सत्यापन पन्ना में छात्रावास अधीक्षिका और जिला संयोजक के बीच हुई बात-चीत की वॉइस रिकार्डिंग के जरिये किया गया। इसके बाद छापामार कार्रवाई प्लान की गई। कलेक्टर कार्यालय में आज जैसे ही छात्रावास की महिला अधीक्षक ने आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक को रिश्वत के ₹27000 दिए लोकायुक्त पुलिस ने कार्यवाही शुरू कर दी। 

साबित खान में पहले भागने का प्रयास किया, फिर बीपी बढ़ गया 

रिश्वत की रकम को कमीशन कहकर अधिकार पूर्वक मांगने वाले जिला संयोजक साबित खान को जैसे ही लोकायुक्त पुलिस ने हिरासत में लिया उसने भागने की कोशिश की। जब वह इसमें सफल नहीं हो पाया तो उसका बीपी बढ़ गया। लोकायुक्त पुलिस ने डॉक्टरों की एक टीम बुलाकर उसका स्वास्थ्य परीक्षण कराया। डॉक्टर ने बताया कि उसका ब्लड प्रेशर और शुगर लेवल दोनों डिस्टर्ब हुए हैं। हालांकि वह खतरे से बाहर है।