Loading...    
   


अवैध रिश्तों के कारण हुई प्रशांत ठाकुर की हत्या, प्रहलाद गिरफ्तार | JABALPUR NEWS

जबलपुर। घर की महिला को आपत्तिजनक हालत में देखते ही युवक का खून खौल उठा और लाठी से पीटकर उसने आशिक की हत्या कर दी। घटना कांचीपुरम मड़ई रांझी में रविवार रात करीब 8.30 बजे की है। वारदात को अंजाम देकर आरोपित मौके से भाग गया जिसे घेराबंदी कर रात में ही पुलिस ने दबोच लिया। 

रांझी थाना प्रभारी नीरज वर्मा ने बताया कि रविवार रात डायल 100 को सूचना मिली कि कांचीपुरम मड़ई निवासी प्रशांत उर्फ हीरा ठाकुर (40) पिता स्व. दिनेश ठाकुर की हत्या कर दी गई है। मौके पर पहुंची पुलिस को प्रशांत लहूलुहान व गंभीर अवस्था में कांचीपुरम निवासी प्रहलाद ठाकुर के घर में मिला। प्रशांत को शासकीय अस्पताल रांझी भेजा गया, जहां से चिकित्सक ने मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया। सोमवार सुबह उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। पूछताछ में जानकारी सामने आई कि प्रहलाद ने प्रशांत पर जानलेवा हमला किया था।

अवैध संबंध से नाराज था आरोपित

पुलिस ने बताया कि प्रहलाद उर्फ दौआ (24) के घर की एक महिला के साथ प्रशांत के अवैध संबंध थे। प्रशांत व प्रहलाद दोनों साथ मजदूरी करते थे। प्रहलाद कई बार प्रशांत व महिला को समझाइश दे चुका था, लेकिन दोनों अकेले में मिलते रहे। प्रशांत अविवाहित है तो महिला का पति उसे छोड़ चुका था। रविवार रात प्रहलाद दबे पांव घर पहुंचा और उसने प्रशांत को अपने घर की महिला के साथ आपत्तिजनक हालत में पकड़ लिया। दोनों के बीच कहासुनी होने लगी इसी बीच प्रहलाद ने प्रशांत पर लाठी व ईंट से हमला कर दिया। उसने ताबड़तोड़ कई लाठियां बरसाईं जिससे प्रशांत मौके पर ही गिर पड़ा और सिर, छाती व चेहरे पर गंभीर चोट के कारण वह बेहोश हो गया।

भाई पहुंचा तो बरसा रहा था लाठियां

प्रहलाद द्वारा की जा रही मारपीट से बचने के लिए प्रशांत चीखने चिल्लाने लगा था। आवाज सुनकर उसका छोटा भाई वहां पहुंचा तो प्रहलाद प्रशांत पर लाठी बरसा रहा था। छोटे भाई के पहुंचते ही प्रहलाद जान से मारने की धमकी देते हुए वहां से भाग गया। घटना का पता चलते ही एसपी अमित सिंह ने साइबर टीम के सहयोग से आरोपित की पतासाजी के निर्देश दिए। एसआई राहुल काकोडिया, रामदीन रघुवंशी, डीआर गोंटिया, प्रधान आरक्षक राजेश मिश्रा, आरक्षक कपिल देव, राज, रोहित द्विवेदी, नितिन जोशी ने घेराबंदी कर मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरोपित को पकड़ लिया। वह रेल पटरी के किनारे-किनारे भागने की कोशिश कर रहा था। आरोपित की गिरफ्तारी पर पुलिस अधीक्षक ने टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here