Loading...

कॉलेज गर्ल्स को मिलता था बड़े घरों के युवकों फंसाने का टारगेट | INDORE NEWS

इंदौर। जाल में फंसाकर व्यवसायियों को ब्लैकमेल करने वाली युवती की दो सहेलियों से पुलिस पूछताछ कर रही है। उन्होंने कहा कि मुख्य आरोपित युवती ने बड़े घरों के युवकों को फंसाने का टारगेट दिया था। वह वाट्सएप पर चेटिंग करती थी।  

चंदन नगर थाना टीआई विनोद दीक्षित के मुताबिक पुंजापुरा के दोपहिया वाहन शोरूम के संचालक राजेश गहलोत (Rajesh Gehlot, Director of Vehicle Showroom) की शिकायत पर गायत्री सिसोदिया और दुर्गेश (Gayatri Sisodia and Durgesh) को गिरफ्तार किया गया था। आरोपित राजेश का अश्लील वीडियो बनाकर एक लाख रुपए की मांग कर रहे थे। साजिश में राकेश वर्मा (Rakesh Verma) निवासी चंदन नगर भी शामिल था। पुलिस ने उसे पिस्टल सहित गिरफ्तार किया और मंगलवार को दुर्गेश के साथ कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया। जांच में खुलासा हुआ कि गायत्री ने कॉलेज छात्राओं का एक ग्रुप तैयार कर लिया था। उन्हें रातोरात लखपति बनने का प्रलोभन दिया और बड़े घरों के युवकों से दोस्ती कर फंसाने का टारगेट दिया। 

दोपहर को एसआई दिलीप देवड़ा ने दो छात्राओं को पूछताछ के लिए थाने बुलाया। छात्राओं ने कहा कि गायत्री उनसे वाट्सएप पर चेटिंग करती थी। कॉल रिकॉर्ड न हो, इसलिए वॉट्सएप कॉलिंग करती थी। उसने कुछ युवकों को जाल में फंसाने का कहा था। एक युवती ने पीयूष खंडेलवाल (Piyush Khandelwal) नामक युवक से दोस्ती भी कर ली थी। एसआई के मुताबिक छात्राओं ने पूछताछ में कहा कि उन्होंने किसी को भी ब्लैकमेल करने से इनकार कर दिया था।