Loading...    
   


मध्यप्रदेश में खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी में 5% आरक्षण

ग्वालियर। मध्य प्रदेश में नई खेल नीति बनाई जा रही है। इसमें खिलाड़ियों कई तरह की सुविधाएं और उनके हितों का संरक्षण होगा। सरकारी नौकरी में मध्यप्रदेश के खिलाड़ियों को 5% आरक्षण दिया जाएगा। यह ऐलान आज खेल मंत्री जीतू पटवारी ने ग्वालियर में किया। जीतू पटवारी यहां प्रांतीय ओलंपिक खेलों का शुभारंभ करने आए थे।

खेल मंत्री जीतू पटवारी के भाषण की मुख्य बातें

मध्यप्रदेश में खिलाड़ियों को अब शासकीय नौकरी में 5 प्रतिशत आरक्षण का लाभ मिलेगा। 
स्कूली स्तर पर खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए अंडर-16 प्रांतीय ओलम्पिक शुरू किया जाएगा। 
अंडर 16 प्रांतीय ओलम्पिक में सभी सीबीएसई, सरकारी तथा प्राइवेट स्कूलों के बच्चे शामिल होंगे।
मुरैना स्टेडियम की सरकारी जिम में खिलाड़ियों की फीस ₹300 प्रति माह से घटाकर ₹100 कर दी गई। 

पटवारी ने कहा- अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर खेलों में लगातार पदक हासिल करने के बाद भी खिलाड़ियों को नौकरी से वंचित रहना पड़ता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुसार नई खेल नीति में यह व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि अभी प्रांतीय ओलम्पिक में केवल 16 वर्ष से अधिक आयु समूह के बच्चों को प्रतिभा चयन के लिए खेल आयोजित किए जा रहे हैं। इसमें 10 खेल- हॉकी, बास्केबॉल, फुटबॉल, वॉलीबॉल, कबड्डी, खो-खो, एथलेटिक्स, कुश्ती, बैडमिंटन और टेबिल टेनिस शामिल हैं। 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here