Loading...

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट ऑफिसर्स के खिलाफ 1800 व्यापारियों का विरोध प्रदर्शन

भोपाल। राजधानी में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को लेकर साउथ व नॉर्थ टीटी नगर के व्यापारियों ने बुधवार को विरोध दर्ज कराया। दरअसल, प्रोजेक्ट के चलते स्मार्ट सिटी कंपनी ने पूर्व में ही दुकानों को खाली करने का फरमान सुनाया था। इसके विरोध में व्यापारियों ने बुधवार को जवाहर चौक से पलाश होटल तक मौन जुलूस निकाला। साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन भी सौंपा। कुछ दुकानें भी व्यापारियों ने बंद रखीं।

व्यापारियों ने बताया कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में टीन शेड, दशहरा मैदान, जवाहर चौक, दीनदयाल मार्केट व पलाश मार्केट स्थित दुकानें प्रभावित हो रही हैं। स्मार्ट सिटी के अधिकारियों द्वारा भी मनमानी की जा रही है। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में करीब 1800 दुकानों की सूची भी तैयार की गई है। इससे हजारों लोगों का रोजगार प्रभावित होगा। व्यापारियों ने प्रदर्शन के जरिए मांग की है कि उन्हें वर्तमान स्थान पर ही दुकानें उपलब्ध कराई जाएं। किसी भी स्थिति में दुकानों की शिफ्टिंग नहीं होने दी जाएगी।

बैरीकेडिंग के बहाने दुकानदारों को कर रहे परेशान

व्यापारियों का आरोप है कि टीटी नगर क्षेत्र में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत सरकारी आवास बनाने के नाम पर व्यापारियों को परेशान किया जा रहा है। बैरीकेडिंग के कारण दुकानों का संचालन भी मुश्किल हो गया है। बता दें कि सात-आठ महीने पहले एक टावर बनाने के लिए बीच सड़क पर बैरीकेडिंग कर दी गई थी। दुकानदारों ने इसका विरोध किया है। तब मंत्री पीसी शर्मा ने काम रुकवा दिया था। इसके बाद भी स्मार्ट सिटी कंपनी ने बैरीकेड्स नहीं हटाए, बल्कि इनका दायरा भी दुकानों की ओर बढ़ा दिया। पलाश मार्केट व्यापारी संघ अध्यक्ष त्रिभुवन मिश्रा ने बताया कि नगर निगम ने यहां करीब 250 दुकानों को लीज पर दिया था। इसके बाद भी नियमों के विरुद्ध दुकानें हटाने का षड़यंत्र किया जा रहा है।