Loading...

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने पंकज महाराज को अरेस्ट करवाया, पढ़िए क्या-क्या कहा | MP NEWS

सागर। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने पंकज महाराज उर्फ पंकज तिवारी नाम के साधु भेषधारी युवक को गिरफ्तार करवा दिया। इतना ही नहीं गोपाल भार्गव ने अपने फेसबुक पेज पर यह सूचना सार्वजनिक भी की कि पंकज महाराज उर्फ पंकज तिवारी की गिरफ्तारी उनके कहने पर पुलिस द्वारा की गई है। 

गोपाल भार्गव की विधानसभा का रहने वाला है यह साधु

आरोपी पंकज महाराज उर्फ पंकज तिवारी, भाजपा नेता गोपाल भार्गव के विधानसभा क्षेत्र रहली का निवासी है। उसके खिलाफ विभिन्न थानों में धार्मिक भावनाएं भड़काने और अन्य आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार पंकज महाराज पर सागर के मोतीनगर थाने में भी छेड़छाड़ का मामला दर्ज है। 11 सितंबर को साहित्य जैन की रिपोर्ट के आधार पर साधु के खिलाफ आईटी एक्ट, 295-ए के तहत भी मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस को इन मामलों में पंकज महाराज की तलाश थी। मामले में एएसपी विक्रम सिंह ने कहा कि पंकज को पुलिस ने गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

गोपाल भार्गव ने क्यों अरेस्ट करवाया, क्या-क्या कहा

गिरफ्तारी के पूर्व पंकज महाराज ने नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के साथ अपनी मुलाकात की कुछ तस्वीरें फेसबुक पर शेयर की थीं। इसके बाद वह दमोह चला गया। इस बीच गोपाल भार्गव ने पंकज की तस्वीर को लेकर अपने फेसबुक वॉल पर एक पोस्ट लिखा। भार्गव ने लिखा, "पंकज महाराज पिता प्रह्लाद तिवारी निवासी बिछिया जो कि एक आदतन अपराधी बहुरूपिया एवं चरित्रहीन व्यक्ति है एवं जो धार्मिक एवं सामाजिक भावनाओं को भड़काता है, जिसके विरुद्ध विभिन्न थानों में धारा 295A, 67 IT एक्ट (थाना रहली), 354क, 294 ताहि 67 IT एक्ट (थाना मोतीनगर सागर) अपराध पंजीबद्ध है, को आज रात रहली पुलिस द्वारा मैंने गिरफ्तार करवाया है। उक्त व्यक्ति से मेरा प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से कोई संबंध नहीं है।" इस पोस्ट के आधार पर रहली पुलिस ने दमोह से पंकज को गिरफ्तार किया।