Loading...

आंगनबाड़ियों में अंडे पर राजनीति शुरू, सरकार और भाजपा आमने सामने | MP NEWS

भोपाल। महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कहा है कि जल्द ही प्रदेश की आंगनबाड़ियों में बच्चों और गर्भवती महिलाओं को खाने के लिए अंडा दिया जाएगा। प्रदेश सरकार ने इसकी तैयारी कर ली गई है। अगले महीने से इसकी शुरुआत हो सकती है। भाजपा ने प्रदेश सरकार के इस फैसले को भावनाओं से खिलवाड़ करने वाला बताकर इसका विरोध शुरू कर दिया है।

मंत्री इमरती देवी ने कहा प्रदेश सरकार ने कुपोषण मिटाने के लिए ये फैसला लिया है। बीते 15 साल में इस दिशा में कोई खास काम नहीं किया गया। करोड़ों रुपए हर साल खर्च होने के बाद आज भी कुपोषण एक बड़ी समस्या के रूप में हमारे सामने खड़ी है। अंडा देने की शुरुआत आंगनबाड़ियों से की जाएगी।

इमरती देवी के बयान के बाद भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा है कि सरकार का ये फैसला प्रदेश की जनता की भावनाओं से खिलवाड़ करने वाला है। आंगनबाड़ियों में वह महिलाएं और बच्चे भी जाते हैं जो अंडा खाना तो दूर उसे छूते तक नहीं हैं। आंगनबाड़ियों में अंडा देने से यहां जाने वाले शाकाहारी लोग इससे दूरी बना लेंगे। इस स्थिति में कुपोषण कम होने की जगह और बढ़ जाएगा।

भाजपा सरकार ने नहीं किया था लागू

देश को कुपोषण मुक्त करने के लिए यूपीए सरकार 2013 में आगंनबाड़ियों और मिड डे मील में बच्चों को अंडा देने की वकालत की थी। उस समय भाजपा सरकार वाले राज्यों ने उस समय उसे अनसुना कर दिया। जबकि, देश के कुछ राज्यों में बच्चों को दूध और अंडा दोनों ही दिए जा रहे है। पिछले महीने छत्तीसगढ़ में इस योजना को लागू किया गया तो भाजपा ने इसका विरोध किया था।