Loading...

GWALIOR में गोंडवाना एक्सप्रेस का एक्सीडेंट, 7 घायल | MP NEWS

ग्वालियर। सोमवार देर रात ग्वालियर में गोंडवाना एक्सप्रेस पटरी किनारे खड़े ट्रक से टकरा गईं रात करीब दो बजे हुए इस हादसे में लगभग 7 लोग घायल हो गए। खबर मिलते ही ग्वालियर पुलिस और जीआरपी मौके पर पहुंचे और घायलों को जयारोग्य अस्पताल भिजवाया गया। हादसा ट्रक के पटरी किनारे फंस जाने के चलते हुआ है। हादसा होते ही ट्रक चालक फरार हो गया है वहीं जीआरपी ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।

कीचड़ में फंसे ट्रक से टकराई ट्रेन

बीती रात जबलपुर से निजामुद्दीन जा रही गोंडवाना एक्सप्रेस रात करीब 1:30 बजे ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर पहुंची थी। ग्वालियर स्टेशन से दिल्ली जाने के लिए गोंडवाना में कई यात्री सवार हुए थे। ग्वालियर से चलने के बाद ट्रेन जब बिरलानगर से रायरू बीच से गुजर रही थी, उसी दौरान बीच में पड़ने वाले रेलवे फाटक के पास ट्रैक पर एक ट्रक फंस गया। गोंडवाना एक्सप्रेस गुजरी तो ट्रक का पिछला हिस्सा उसके कोच से टकरा गया। टकराने की आवाज आते ही ट्रेन के ड्रायवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाए, इमरजेंसी ब्रेक लगते ही ट्रेन झटके के साथ रुक गई। जनरल कोच के यात्री नीचे गिरने से घायल हो गए। स्लीपर कोच में सोए मुसाफिर भी सीट से नीचे आ गिरे। ट्रेन स्टाफ ने झांसी रेलवे कंट्रोल रुम और ग्वालियर स्टेशन मास्टर को हादसे की खबर दी।

घायलों को जयारोग्य अस्पताल भिजवाया गया

खबर लगते ही जीआरपी, स्थानीय पुलिस और 108 एंबुलेंस की टीमें मौके पर पहुंची। घायल यात्रियों को एंबुलेंस के जरिए जयारोग्य अस्पताल भिजवाया गया। हादसे में ट्रेन के गेट पर बैठे यात्रियों को ज्यादा चोटें आईं हैं। दलप्रीत और मनीष नाम के दो यात्रियों की हालत गंभीर बताई जा रही है, इनके पैरों में फ्रैक्चर है, तो वहीं दूसरे यात्रियों को भी चोटें आईं हैं।

ट्रक का पहिया कीचड़ में फंसने से हुआ हादसा

जिस ट्रक से गोंडवाना एक्सप्रेस ट्रेन टकराई है वो आंध्र प्रदेश का है। जीआरपी से मिली जानकारी के मुताबिक ड्रायवर अंजान होने से आगरा हाइवे की बजाए सिंगल रोड़ पर निकला गया था, रेलवे फाटक पहुंचने के बाद ड्रायवर को अपनी गलती का अहसास हुआ और जब रेलवे फाटक के पास बैक पर वापस लौटने लगा तो कीचड़ में पहिया फंस गया, इसी दौरान गोंडवाना भी आई, तो ड्राइवर ट्रक छोड़कर फरार हो गया। गौरतलब है कि रेलवे फाटक के पास रेलवे का गैंगमैन या कोई अन्य कर्मचारी मौजूद नहीं था। फिलहाल जीआरपी ने ट्रक ड्रायवर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है, तो वहीं आरपीएफ ने भी रेलवे एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. रेलवे ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।