Loading...

TIKAMGARH RES: सब इंजीनियर आशीष पटेरिया रिश्वत लेते गिरफ्तार

टीकमगढ़। सागर लोकायुक्त पुलिस ने सब इंजीनियर को रंगे हाथों घूस लेते दबोच लिया। इंजीनियर ने विकास कार्यों के मूल्यांकन और भुगतान करने के एवज में सरपंच प्रतिनिधि से  1 लाख 52 हजार रुपए रिश्वत की मांग कर रहा था 60 हजार पूर्व में ले चुका है। पुलिस ने उसके एक बिचौलिए को भी गिरफ्तार किया हैं।

सागर लोकायुक्त टीआई बीएम द्विवेदी ने बताया कि जनपद पंचयात जतारा अन्तर्गत ग्राम पंचायत खाखरौन के सरपंच दयाली चढ़ार प्रतिनिधि जवाहर कुशवाहा ने शिकायत दर्ज कराईं थी कि आरईएस सब इंजीनियर आशीष पटेरिया ने कच्चे कार्य के लिए और सीसी कार्य के भुगतान के एवज में कमीशन माग रहा हैं।

वर्तमान में 2 सीसी सड़क, हाट बाजार में शौचालय, खेल मैदान तथा सामुदायिक भवन सहित अन्य कार्यों के मूल्यांकन के एवज में एक लाख 52 हजार रुपए की रिश्वत माग रहा हैं।60 हजार पूर्व में ले चुका हैं, शिकायत की पुष्टि होने पर शुक्रवार सुबह 11 बजे 50 हजार रुपए देना तय हुआ।

निर्धारित समय पर सब इंजीनियर आशीष पटैंरिया के चकरा रोड स्थित शिव शक्ति नगर कॉलोनी टीकमगढ़ में बने निवास पर  शिकायत कर्ता जवाहर रंग लगे पचास हजार रुपए लेकर पहुंचा।तब इंजीनियर ने कहा थोडा ठहरों मेरे साथी आशीष खरें के आने तक इंतजार करों आशीष खरे के आते ही शिकायत कर्ता ने जैसे ही पैसे दिऐ, तभी लोकायुक्त पुलिस ने मौके पर पहुॅचकर सब इंजीनियर को दबोच लिया और जैसे ही इंजीनियर और बिचौलियें के हाथ धुलवाऐं तो दूध का दूध और पानी का पानी हो गया। 

घटना की सूचना मिलते ही शहर में हडकंप मच गया नि​वास पर भीड जमा होता देखकर लोकायुक्त पुलिस ने आरोपितो को कोतवाली लेकर पहुॅची। सब इंजीनियर ने अपने सहयोगी आशीष खरे के आने के बाद ही पैसे लिए थे। लोकायुक्त पुलिस ने आशीष खरे को भी आरोपित बनाया है। कोतवाली में देर तक कार्रवाई के बाद दोनों आरोपितो को न्यायालय में पेश किया गया। जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया। इस दौरान लोकायुक्त टीम में निरीक्षक बीएम द्विवेदी, निरीक्षक मंजू सिंह पटेल शामिल थे।