Loading...

प्रियंका गांधी वाड्रा का गृहप्रवेश, जिसके लिए कानून बदला गया था | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोमवार को शिमला में अपने नए घर में पूजा कर गृह प्रवेश किया। दो मंजिला बंगले में गृह प्रवेश नवरात्रि के पहले दिन हुआ और दक्षिण भारत से खासतौर से बुलाए गए पुजारी ने गृह प्रवेश के लिए विधि-विधान से पूजा कराया।

ऐसे मिली घर की जमीन

न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक प्रियंका गांधी रविवार को शिमला पहुंची थीं। पूजा दो दिन और चलेगी। हिमाचल प्रदेश राज्य के कानून के अनुसार, कोई भी बाहरी व्यक्ति पहाड़ी राज्य में जमीन नहीं खरीद सकता है। हालांकि, 2007 में राज्य की कांग्रेस सरकार ने प्रियंका के आवेदन पर भूमि खरीद की सुविधा के लिए भूमि सुधार और किरायेदारी अधिनियम की धारा 118 के तहत अधिग्रहण मानदंडों में ढील दी थी।

47 लाख में 3.5 बीघा जमीन

राज्य कांग्रेस की नेता विद्या स्टोक्स ने प्रियंका गांधी को 47 लाख रुपये में करीब साढ़े तीन बीघा कृषि भूमि दिलवाने में अहम भूमिका निभाई थी। प्रेसिडेंशियल समर रिसॉर्ट द रिट्रीट और ओबेरॉय ग्रुप के लक्जरी स्पा वाइल्डफ्लावर हॉल के करीब स्थित कांग्रेस महासचिव का यह आशियाना हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला से केवल 15 किलोमीटर की दूरी पर है।

एक बार टूट चुका है मकान

घर का काम 2008 में दिल्ली की आर्किटेक्ट कंपनी को दिया गया था। हालांकि 2011 में पूरी बिल्डिंग को तोड़ना पड़ा था। गांधी परिवार के करीबी नेताओं ने कहा कि इसकी वजह कोई विवाद नहीं था, बल्कि कमरों के साइज और डिजाइन को लेकर गांधी परिवार खुश नहीं था। बाद में इसे फिर से बनाया गया।