Loading...

मंत्री के बंगले में झरने बह रहे हैं, कोई अधिकारी सुनवाई नहीं कर रहा | MP NEWS

भोपाल। आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम के श्यामला हिल्स पर बने सरकारी बंगले B-8 में इन दिनों हर जगह से पानी टपक रहा है। उनकी बेबसी ये है कि वो मेंटेनेंस के लिए पीडब्‍ल्‍यूडी विभाग (PWD Department) से लेकर खुद अपने विभाग के अफसरों को निर्देश दे चुके हैं, लेकिन उनकी सुनवाई कहीं नहीं हो रही है। इसके अलावा सरकारी आवास पर रखा पुराना सामान बदबू मार रहा है, तो छत से टपकता पानी फाइलों को बर्बाद कर रहा है।

मैं आदिवासी हूं इसलिए कोई सुनवाई नहीं हो रही: मंत्री ओमकार सिंह मरकाम

आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम का आरोप है कि आदिवासी मंत्री होने के कारण उनकी सुनवाई नहीं हो रही है और अब इस पूरे मामले की शिकायत वो सीधे मुख्यमंत्री कमलनाथ से करेंगे। मंत्री के मुताबिक सरकारी बंगले के मेंटेनेंस के लिए वो कई बार अफसरों को शिकायत दे चुके हैं, लेकिन न तो बिल्डिंग का मेंटनेंस हो पाया है और न ही पुराने फर्नीचर का। साथ ही उन्‍होंने कहा कि इस समय का इस्तेमाल उन्हें प्रदेश के आदिवासियों के विकास पर खर्च करना चाहिए था, लेकिन वो अफसरों के साथ माथापच्ची करने में हैं।

निर्दलीय विधायकों का भी ऐसा ही दर्द

ऐसा हाल सिर्फ मंत्रियों का नहीं बल्कि सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों का भी है। बारिश में घर में पानी घुसने की तस्वीरें निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह ठाकुर के आवास से आ रही हैं। थोड़ी बारिश में ये सरकारी बंगला ताल तलैया में तब्दील हो जाता है। आलम ये है कि बारिश के मौसम में यहां विधायक भी कुर्सी पर टांगे ऊपर करके बैठते हैं। जबकि विधायक के घर में काम करने वाले कर्मचारी भी पानी के भरने से फैसले वाली बीमारी से पीड़ित हैं।

विधायक के मुताबिक छतों से पानी टपकता है और पूरा घर बारिश के कारण पानी पानी हो गया है। जबकि वह इस मामले में कई बार पीडब्‍ल्‍यूडी के अफसरों को शिकायत दर्ज करा चुके हैं, लेकिन उनकी शिकायत को सुनने वाला कोई नहीं है। अब विधायक सुरेंद्र सिंह भी इस मामले की शिकायत सीएम कमलनाथ से करने की बात कह रहे हैं।