Loading...

नगर निगम कर्मचारी श्रमिक संघ ने प्रदर्शन किया | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। नगर पालिका निगम कर्मचारी श्रमिक संघ (Municipal corporation employee labor union)ने 11 सूत्रीय मांगों को लेकर निगमायुक्त को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन देने वालों ने चेतावनी देते हुए 21 दिन का अल्टीमेटम दिया है और कहा है अगर उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो वे चरणबद्ध आंदोलन करेंगे साथ ही काली दीपावली मनाएंगे। नगर निगम मुख्यालय पहुचकर नगर पालिका निगम कर्मचारी श्रमिक संघ के जिलाध्यक्ष सोनू डोंडेरिया के नेतृत्व में 11 सूत्रीय मांगों को लेकर नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन को एक ज्ञापन सौंपा गया। 

इस ज्ञापन में सफाईकर्मियों की प्रमुख मांगों में विनियमित कर्मचारियों को नियमित किया जाए, ठेका प्रथा खत्म की जाए, ठेके पर तैनात कर्मचारियों का लम्बित भुगतान किया जाए आदि शामिल हैं। संघ के अध्यक्ष सोनू डोंडेरिया ने नगर निगम के आला अफसरों पर सफाई कर्मियों को बरगलाने का आरोप लगाया है। उनका कहना है वर्ष 2017 में नियमितीकरण की मांग को लेकर वे हड़ताल पर गए थे तब तत्कालीन निगमायुक्त विनोद शर्मा ने उन्हें आश्वासन दिया था कि उनकी सभी मांगे पूरी की जायेंगीं, लेकिन 2 साल बीत जाने के बाद अब तक उनकी मांगें नहीं मानी गईं हैं। 

संघ के अध्यक्ष डोंडेरिया के मुताबिक वर्तमान में 2888 सफाईकर्मी कार्यरत हैं जिनमें से 1100 कर्मचारी नियमित हैं। जबकि 2134 पद शासन द्वारा स्वीकृत किये गए हैं। साथ ही सरकार ने अपने वचन-पत्र में वादा भी किया था। बाबजूद इसके नगर निगम सफाईकर्मियों को नियमित नहीं कर रहा है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा है कि ज्ञापन में 21 दिनों का अल्टीमेटम दिया गया है अगर उनकी मांगें जल्दी नहीं मानी गई तो सफाईकर्मी चरणबद्ध आंदोलन को बाध्य होंगे और काली दीपावली मनाएंगे।