Loading...

पुलिस पेट्रोलिंग शुरू होते ही ग्वालियर बंद कराने वाले गायब | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। शुक्रवार की सुबह से ही पुलिस अलर्ट रही और चौराहों से लेकर गलियों में पेट्रोलिंग करते हुए संदेहियों पर नजर रख रही थी तो वहीं जिन क्षेत्रों में लोग एकत्रित उन्हें पुलिस खदेड़ गया। भारत बंद के आह्वान को देखते हुए पुलिस हाईअलर्ट बनी रही। बंद का आह्वान दिल्ली में संत रविदास महाराज के मंदिर को हटाए जाने के विरोध में किया गया है, लेकिन सुबह न तो बाजारों को बंद कराने के लिए सडक़ों पर कोई आया और न ही आह्वान करने वाले नजर आए। पुलिस अफसरों का कहना है कि 2 अप्रैल जैसी घटना की पुनरावृत्ति न हो इसे देखते हुए हाईअलर्ट किया गया है। 

दिल्ली में संत रविदास का मंदिर हटाने के विरोध में 6 सितंबर को भारत बंद का आह्वान किया गया था। बंद के दौरान किसी भी प्रकार की कोई अप्रिय घटना घटित न हो जाए इसे लेकर पुलिस हाईअलर्ट बनी रही। सुबह से ही पुलिस अफसरों ने शहरभर में मोर्चा संभालते हुए पेट्रोलिंग करनी शुरू कर दी थी और जवानों को जाली, डंडे और आंसू गैस के साथ तैनात कर दिया। बंद का आह्वान किसने किया है यह अब तक साफ नहीं हो पाया है लेकिन बंद का आह्वान रविदास मंदिर को हटाने को लेकर किया गया, यह साफ हो गया है जिससे पुलिस अफसर मान रहे हैं कि यह आह्वान संत रविदास से सरोकार रखने वालों ने किया होगा। 

बंद के दौरान कोई घटना न हो इसे देखते हुए मुरार, थाटीपुर और गोला का मंदिर थानों को अलर्ट कर दिया था, क्योंकि पूर्व में यहां अप्रिय घटना हो चुकी है। आज सुबह से ही पुलिस गल्ला कोठार, भीम नगर, कुम्हरपुरा, नदी पार टाल, मुरार, घासमंडी, गोला का मंदिर, काल्पी ब्रिज कॉलोनी, भगत सिंह नगर, रचना नगर जैसे कई क्षेत्रों में पेट्रोलिंग कर रही है।