Loading...

GWALIOR NEWS : चार शहर का नाका ATM का यूज मत करना, क्लोनिंग किट हो सकती है

ग्वालियर। नागरिकों को सावधान किया जाता है! कृपया चार शहर का नाका स्थित एटीएम का उपयोग (ATM access) मत करना। उसमें क्लोनिंग किट लगी हुई है। इसका शिकार हुए एक व्यक्ति ने मामला दर्ज करा दिया है, जल्द ही और भी मामले सामने आ सकते हैं। बैंक ने अब तक ना तो एटीएम की जांच की है ओर ना ही उसे सुरक्षित घोषित किया है।


देखते ही देखते 38 हजार रुपए गायब हो गए

हजीरा थाना क्षेत्र के सुभाष नगर निवासी मनोज शर्मा पुत्र मेवाराम शर्मा (Manoj Sharma son Mevaram Sharma) प्रायवेट जॉब करते हैं। उनका SBI बैंक एकाउंट है। दो दिन पहले उन्हें घर काम के लिए पांच हजार रुपए की जरूरत थी। जिसके लिए वह चार शहर का नाका स्थित एटीएम पर पैसे निकालने पहुंचे थे। रुपए निकालने के बाद वह वापस घर आ गए। अगले ही दिन रात 10.47 बजे उनके मोबाइल पर 20 हजार रुपए निकलने का मैसेज आया। रुपए निकलने का मैसेज मिलते वे घबरा गए और अपना एटीएम कार्ड देखा तो वह घर पर रखा था। इसी बीच उनके मोबाइल पर 18 हजार रुपए निकलने का मैसेज आया। मामला समझ में आते ही उन्होंने बैंक के हेल्प लाइन नंबर पर कार्ड ब्लॉक कराने के लिए कॉल लगाया, इसी बीच 10.54 पर उनके मोबाइल पर पांच सौ रुपए निकलने का मैसेज आया। इसके बाद उन्होंने कार्ड ब्लॉक करा दिया। जिससे शेष रुपए निकलने से बच गए।

बैंक ने ठग की जानकारी तो दी, ATM की जांच नहीं की

वारदात के बाद पीडि़त बैंक पहुंचे और मामले की शिकायत बैंक अफसरों से की। जहां पर बैंक प्रबंधन ने जानकारी दी कि उनके पैसे भिण्ड रोड स्थित गोहद स्थित एटीएम बूथ से निकाले गए है। इस मामले में बैंक ने अधूरी कार्रवाई की है और खाताधारकों को साइबर क्राइम का शिकार होने के लिए छोड़ दिया है। होना यह चाहिए था कि शिकायत मिलते ही सबसे पहले एटीएम को बंद किया जाता और उसकी जांच की जाती। इस तरह की घटनाएं तभी होतीं हैं जब एटीएम में कार्ड क्लोनिंग किट लगी हो।

भोपाल समाचार डॉट कॉम ऐसे मुद्दों पर जनता को हमेशा सावधान करता रहा है। नागरिक हित में भोपाल समाचार की वचनबद्धता कभी कम नहीं होगी। पढ़ते रहिए, भोपाल समाचार