Loading...

अब छात्र करेंगे शिक्षकों का मूल्यांकन, पास हुए तो प्रमोशन: 360 डिग्री फीडबैक प्रोग्राम | EMPLOYEE NEWS

नई दिल्ली। भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने 360 डिग्री फीडबैक प्रोग्राम लांच कर दिया है। इसके केंद्र में शिक्षक होगा। सरकार छात्रों से 14 सवाल पूछेगी, जिसके जवाब में छात्र अपने शिक्षक को 1 से लेकर 5 के बीच नंबर देंगे। सरकार शिक्षक के साथी कर्मचारी, एचओडी और प्रिंसिपल से भी सवाल पूछेगी। कुल मिलाकर अब हर साल शिक्षक का मूल्यांकन होगा। छात्र नंबर देंगे और इसी आधार पर शिक्षक का प्रमोशन या भविष्य तय किया जाएगा। 

360 डिग्री फीडबैक प्रोग्राम: छात्र, एचओडी, साथी शिक्षक सब नंबर देंगे

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कॉलेज शिक्षा प्रक्रिया को समझने के लिए 7वें वेतन आयोग का समर्थन दिया हैं। साथ ही 360 डिग्री फीडबैक प्रोग्राम (360 Degree Feedback Programme) को लॉन्च किया है। इस प्रोग्राम के तहत मिले फीडबैक डाटा को इकट्ठा किया जाएगा। इसे शिक्षण संस्थानों द्वारा पेश किया जाएगा, जिसमें कुल 100 अंक होंगे। इस प्रतिक्रिया की शुरुआत सेल्फ एवलुएशन से होगी जिसके 25 अंक होंगे और 10 अंक बाकी अध्यापकों से होंगे। जिस विभाग में शिक्षक काम करता है, उसके मुखिया भी शिक्षक द्वारा की गई विभागीय गतिविधियों की रिपोर्ट करेंगे, इसके लिए 20 अंक होंगे।

10 अंक वार्षिक गोपनीय रिपोर्ट से होंगे

संस्थान के प्रिंसिपल हर शिक्षक के लिए 10 अंकों के लिए संस्थान की गतिविधियों और 10 अंकों के लिए वार्षिक गोपनीय रिपोर्ट से होंगे। बाकी के 25 अंक स्टूडेंट्स देंगे जिसमें छात्रों को 1-5 के स्केल पर 14 सावलों का जवाब देना होगा। यह प्रतिक्रिया का टेस्ट रन हो चुका है और अब देश भर के सभी प्राइवेट और सरकारी AICTE के अंदर आने वाले कॉलेजों में होगा।