Loading...

SATNA प्लांटेशन घोटाला खुलेगा, सूचना आयुक्त ने CF राजीव मिश्र को तलब किया | Crime of concealing information

भोपाल। आरोप लगाए जाते रहे हैं कि सतना वृत्त रीवा में 2016-2017 के दौरान बड़ा प्लांटेशन घोटाला किया गया। आरटीआई में इस प्रक्रिया से जुड़े दस्तावेज सार्वजनिक नहीं किए जा रहे हैं। 3 साल से यह मामला जानकारी के अभाव में लंबित था पंरतु अब सतना प्लांटेशन घोटाले का रहस्य खुलने वाला है। राज्य सूचना आयुक्त राहुल सिंह ने 7 दिन में जानकारी देने के आदेश दिए हैं। 

2016-2017 का 50 लाख प्लांटेशन के मामले में राज्य सूचना आयोग ने पूर्व में भी दस्तावेज जारी करने के आदेश दिए थे परंतु अधिकारियों ने सभी फाइलें दबाई रखीं। अब राज्य सूचना आयुक्त राहुल सिंह ने आयोग के आदेश की अवेहलना पर राज्य के प्रधान मुख्य वन संरक्षक की जिम्मेदारी की तय कर दी है कि 7 दिन में जानकारी उपलब्ध कराएं। 

सतना वन संरक्षक राजीव मिश्र को 25 हजार हर्जाने का नोटिस

सतना के वन संरक्षक राजीव मिश्र के खिलाफ नोटिस जारी किया गया है। सूचना आयोग ने राजीव मिश्र पर 25 हजार रुपए और अनुशासनिक कर्रवाई का कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। साथ ही राजीव मिश्र को आयोग के समक्ष उपस्थित होने का नोटिस भी जारी किया गया है।

मुख्य वन संरक्षक वृत रीवा की भूमिका भी संतोषजनक नहीं

इस मामले में सूचना आयुक्त मुख्य वन संरक्षक वृत रीवा की भूमिका से भी नाराज हैं। बता दें कि शिवराज कार्यकाल में हुए 50 लाख प्लांटेशन में बड़े फर्ज़ीवाड़े की आशंका जताई जा रही है। आशंका जताई जा रही है कि पूरी जानकारी सामने आने पर कई बड़े अधिकारियों पर कार्रवाई की जा सकती है।