Loading...

GWALIOR NEWS : पूरे ग्वालियर में दिव्यांगों के लिए रैम्प बनाने के आदेश, ना हो तो यहां बताएं

ग्वालियर। ग्वालियर में दिव्यांगजनों को बाधा रहित वातावरण देने के लिए जिला प्रशासन द्वारा विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने सभी शासकीय कार्यालयों, बैंक, एटीएम, रेलवे स्टेशन, बस स्टेण्ड, स्कूल, कॉलेज एवं अन्य स्थानों को दिव्यांगजनों के लिए बाधा रहित बनाने के निर्देश जारी किए हैं। 

कलेक्टर अनुराग चौधरी ने विद्यालयों, सिनेमा हॉल, पुलिस स्टेशन को भी दिव्यांगजनों के लिए बाधा रहित बनाने के विशेष प्रयास करने को कहा है। उन्होंने इसके लिए मोबाइल नम्बर 9893440992, 8983543082 एवं 7869502323 को भी सार्वजनिक कर आग्रह किया है कि जिन कार्यालयों एवं सार्वजनिक स्थान जहां पर दिव्यांगजनों का आना-जाना रहता है, अगर रैम्प व बाधा रहित वातावरण नहीं है तो फोटो के साथ जानकारी भेजने का आग्रह किया है। प्राप्त जानकारी के आधार पर तत्परता से बाधा रहित वातावरण निर्माण का कार्य किया जायेगा। 

कलेक्टर अनुराग चौधरी ने शासकीय एवं अशासकीय भवनों में बाधा रहित वातावरण तैयार करने हेतु किए जाने वाले कार्य के लिए एक प्रशिक्षण एवं ऑडिट दल का भी गठन किया है। इस दल में कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग, कार्यपालन यंत्री नगर निगम, कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग खण्ड क्र.-2, उपायुक्त नगर निगम एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग को रखा है। उक्त दल द्वारा 24 अगस्त को दोपहर 2 से 4 बजे तक कलेक्ट्रेट कार्यालय के जन-सुनवाई कक्ष में प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। 

कलेक्टर ने इसके लिए ऑडिट दल भी गठित किए हैं। ऑडिट दल तीन बनाए गए हैं। प्रत्येक दल में 10-10 सदस्यों को रखा गया है। उक्त ऑडिट दल 26 अगस्त तक ग्वालियर में बाधा रहित वातावरण का परीक्षण कर निर्धारित प्रपत्र में जानकारी संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय कार्यालय में प्रस्तुत करेंगे। 

कलेक्टर अनुराग चौधरी ने बताया है कि भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा दिव्यांगजनों के सशक्तिकरण हेतु राष्ट्रीय पुरस्कार हेतु आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। उक्त पुरस्कार निम्न श्रेणियों में प्रदान किए जाते हैं। जिनमें सर्वोच्चतम अधिकारी-कर्मचारी, स्वरोजगार दिव्यांग, सर्वोत्तम नियोक्ता, प्लेसमेंट ऑफीसर अथवा दिव्यांगजनां के लिए एजेन्सी, रोल मॉडल दिव्यांग, दिव्यांगजनों के लिए कार्य करने वाली सर्वोत्तम व्यक्तिगत एवं संस्था, दिव्यांगजनों के लिए उत्कृष्ट रचनात्मक कार्य, दिव्यांग बालक एवं बालिका जिनके द्वारा श्रेष्ठ रचनात्मक कार्य किया गया हो। सर्वोत्तम बाधा रहित वेबसाइट दिव्यांगजनों के लिए, इसके साथ ही दिव्यांग सर्वोत्तम खिलाड़ी शामिल हैं। 

उन्होंने बताया कि उक्त श्रेणियों में पुरस्कार हेतु 27 अगस्त को दोपहर 2 बजे तक संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण से प्रपत्र प्राप्त किए जा सकते हैं।