Loading...

मंत्री इमरती देवी ने सील सरकारी दुकानों के ताले तुड़वाए, व्यापारियो का अवैध कब्जा करवाया | DABRA NEWS

ग्वालियर। मंत्री इमरती देवी ने सरेआम उन तमाम सरकारी दुकानों के ताले तुड़वा दिए जिन्हे प्रशासन ने सील कर दिया था। इतना ही नहीं मंत्री ने अपनी मौजूदगी में सरकारी दुकानों पर व्यापारियों के अवैध कब्जे भी करवाए। SDM जयति सिंह का कहना है कि कब्जा करने वाले व्यापारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

मामला क्या है

मामला ग्वालियर जिले की डबरा कृषि उपज मंडी का है। मंडी प्रशासन ने 26 दुकानें बनाई थी। इन दुकानों पर व्यापारी ने लम्बे समय से कब्जा किया हुआ हैं और दुकानों का किराया भी नहीं चुकाया है, जिसकी वजह से उन्हें नोटिस देने के बाद मंडी प्रशासन ने दुकानों पर ताले जड़ दिए थे। व्यापारियों ने मंत्री इमरती देवी को बुलाया और इस मीटिंग के बाद मंत्री इमरती देवी खुद व्यापारियों के साथ दुकानों तक पहुंची और अपने सामने सील बंद दुकानों के ताले तुड़वाकर दुकानों पर व्यापारियों का कब्जा करवा दिया। 

SDM ने कहा कार्रवाई होगी

बताया जा रहा है कि व्यापारियों के साथ चल रही बैठक के दौरान मंत्री इमरती देवी ने SDM को बुलवाया था परंतु SDM जयति सिंह IAS वहां नहीं पहुंची। मंत्री द्वारा दुकानों कों की सील तुड़वाने के बाद SDM ने अपने वाट्स्ऐप ग्रुप में रात को स्टेनो से प्रेस नोट जारी कराकर सील दुकानों को अवैधानिक तरीके से खोले जाने की बात कही और बताया कि व्यापारियों ने बिना किराया दिए दुकानों का ताला तोड़ दिया है, साथ ही उन्होंने ऐसा करने वालों पर कार्रवाई करने की भी बात कही है। 

मंत्री इमरती देवी ने स्पष्टीकरण दिया, एडीएम जांच अधिकारी नियुक्त

SDM जयति सिंह के बयान के बाद मंत्री इमरती देवी नाराज बताई जा रहीं हैं, उन्होंने कहा कि 'मैं व्यपारियों के साथ मंडी गई थी। वहां जिन व्यापारियों ने दुकान का किराया चेक के माध्यम से दिया है सिर्फ उनकी दुकानों के शटर खोले गए थे'। फिलहाल पूरे मामले ने तूल पकड़ लिया है और मंत्री और SDM आमने- सामने आ गई है। SDM ने अधिकारियों को मामले से अवगत कराकर जांच की बात कही है और ADM को जांच अधिकारी नियुक्त कर दिया है। मंत्री के मामले से जुड़े होने के कारण फिलहाल किसी भी व्यापारी पर कार्रवाई नहीं की गई है।