Loading...

भोपाल में अगले पांच दिन ऐसे ही होगी बारिश, 5 सिस्टम एक साथ सक्रिय | WEATHER FORECAST OF BHOPAL

भोपाल। पूरे प्रदेश में मानसून के पांच सिस्टम एक बार फिर एक्टिव हो गए हैं। इससे सोमवार को भोपाल समेत 29 जिलों में झमाझम बारिश हुई। सबसे ज्यादा पांच इंच बारिश छिंदवाड़ा के तामिया में रिकॉर्ड हुई, जबकि पचमढ़ी-होशंगाबाद में दो-दो इंच और भोपाल में 1.4 सेमी बारिश हुई। वरिष्ठ माैसम वैज्ञानिक एके शुक्ला का कहना कि यदि ऐसी ही बारिश जारी रही तो भोपाल में अगस्त 2016 का 53.13 सेमी का रिकॉर्ड टूट सकता है। इस बार अगस्त में अब तक 48.77 सेमी बारिश हो चुकी है। पूरा महीना होने में अभी 5 दिन बाकी हैं और सिर्फ 4.36 सेमी की जरूरत है। यहां अब तक 123.06 सेमी बारिश हो चुकी है। माैसम विशेषज्ञ एसके नायक ने बताया कि अगले पांच दिन तक बारिश का दाैर जारी रह सकता है। इस दाैरान कभी कम कभी तेज बारिश हाेती रहेगी। 

ये पांच मानसूनी सिस्टम सक्रिय 

1. मानसून ट्रफ लाइन बीकानेर, सीकर से लेकर बंगाल की खाड़ी तक बनी। 
2. चक्रवाती हवा का घेरा 0.9 किमी से 7.6 किमी ऊंचाई तक उत्तरी ओडिशा एवं उससे लगे पश्चिम बंगाल के गंगा के क्षेत्र तथा झारखंड के बीच बना है। यह पश्चिम दिशा की ओर झुका है।
3. पूर्वी पश्चिमी सियर जाेन 20 डिग्री उत्तरी अक्षांश पर है जो मध्य भारत से गुजर रहा है 
4. 28 अगस्त को हवा के कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में बन सकता है।
5. पूर्वी मध्य अरब सागर में हवा के ऊपरी भाग में 3.1 किमी ऊपर चक्रवाती हवा का घेरा है।

तीन दोस्त केरवा नदी में डूबे, एक की जान बची, दो लापता : केरवा डैम से डेढ़ किमी आगे नदी में नहाने उतरे तीन दोस्त बहाव में बह गए। इनमें से एक ने पेड़ की डाल पकड़कर जान बचा ली, जबकि दाे अन्य शाम साढ़े चार बजे से लापता हैं। तीनाें 12 नंबर स्टाॅप पर रहते हैं। तीनाें यहां पार्टी मनाने पहुंचे थे। थाना प्रभारी जेपी त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस, एसडीआरएफ की टीमों ने देर रात तक दोनों युवकों को तलाशा, लेकिन वे नहीं मिले।