Loading...

जानवरों के चारे से 'धनिया पावडर' और नमकीन, 3 फैक्ट्री सील | GUNA MP NEWS

भोपाल। क्या आप कल्पना भी कर सकते हैं कि आप अपनी सब्जी में बड़ी रुचि के साथ जो थोड़ा सा धनिया पावडर डालते हैं, वो 'धनिया' होता ही नहीं है, वो तो जानवरों के चारे 'जिसे भूखा भी कहा जाता है' से बनाया जाता है। यहां तक कि नमकीन में भी 'जानवरों का चारा' उपयोग किया जाता है। गुना में 3 फैक्ट्री सील की गईं हैं। जिनके नाम SIDDH TRADERS, AGRAWAL FOODS सहित RATLAMI NAMKEEN बताए गए हैं। 

जानवरों के भूसे से 'धनिया पावडर' बनाया जा रहा था

गुना में प्रशासन की टीम मिलावट के गोरख़धंधे का पता लगाने निकली तो एक नहीं कई मिलावट खोर उसकी पकड़ में आ गए। राजस्व और खाद्य विभाग की टीम ने SDM शिवानी गर्ग के नेतृत्व में इंडस्ट्रियल एरिया में संयुक्त रूप से कार्रवाई की। छापे के दौरान प्रशासन को एक ऐसी फैक्ट्री मिली जहां जानवरों के खाने के लिए उपयोग किए जाने वाले भूसे से धनिया पावडर बनाया जा रहा था। भूसे को धनिया का रंग देने के लिए बेहद खतरनाक रंगों से रंगा जा रहा था।

सिद्ध ट्रेडर्स, अग्रवाल फूड्स सहित रतलामी नमकीन की फैक्ट्री को सील

छापे के दौरान ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर नमकीन भी मिला जिसे खुली ज़मीन पर बिखेकर रखा गया था। गन्दगी के बीच खुले स्थान पर नमकीन बनाया जा रहा था और उसे बालाजी और स्वाद नाम के ब्रांडेड नमकीन की थैलियों में पैक किया जा रहा था। SNACKS और नमकीन बनाने के लिए दूषित खाद्य सामग्री का धड़ल्ले से उपयोग किया जा रहा था। टीम ने सिद्ध ट्रेडर्स, अग्रवाल फूड्स सहित रतलामी नमकीन की फैक्ट्री को सील कर दिया।