कांग्रेस नेता रात में कार से लौट रहे थे, ग्रामीण समझे बच्चा चोर, घेरकर पीटा | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में बच्चा चोर को पकड़ने के लिए घेराबंदी किए ग्रामीणों के जाल में 2 कांग्रेस नेता फंस गए। वो देर रात एक समारोह से लौट रहे थे। रास्ते में झाड़ियां पड़ीं थीं। नेताओं ने समझा लुटेेरों ने जाल फैलाया है, उन्होंने बचकर भागने की कोशिश की तो ग्रामीणों ने घेर लिया और बेरहमी से पीटा। 

जिन लोगों के साथ मारपीट हुई है, उनकी पहचान कांग्रेस जिला महामंत्री धर्मेंद्र शुक्ला, जनपद सदस्य धरमू सिंग लांजीवार और आदिवासी कोरकु समाज के तहसील अध्यक्ष ललित बारस्कर के रुप में हुई है। गुरुवार रात कांग्रेस नेता केसिया गांव से अपनी कार से घर लौट रहे थे। इस दौरान ग्राम नवल सिंग ढाना रोड पर झाड़ियां पड़ी हुईं थी। 

बीच रास्ते पर झाड़ियां पड़ी थी, इसे देखकर तीनों ही नेता घबरा गए और अपनी कार वापस गांव की तरफ ले जाने लगे। इस दौरान आस-पास छुपे ग्रामीणों ने उन पर हमला कर दिया। जब तक वो कुछ समझ पाते, तब तक लाठी, पत्थरों से गांववालों ने उनकी कार फोड़ डाली। गांव वालों ने इसके बाद कार में बैठे तीनों लोगों को बाहर निकाला और उनकी पिटाई शुरू कर दी।

गांव वालों के चंगुल से छूटकर की पुलिस से शिकायत 

कांग्रेस नेता किसी तरह गांववालों के चंगुल से छूटे और पुलिस से शिकायत की। सूचना मिलने पर थाना प्रभारी दीपक पाराशर घटनास्थल पर पहुंचे। तब तक ग्रामीण वहां से भाग चुके थे। शाहपुर पुलिस ने पीड़ित धर्मेंद्र शुक्ला की शिकायत पर सीतलझिरी ग्राम के 5 ग्रामीणों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।