Loading...

INDORE NEWS: जोरदार मानसून से नदी-नाले उफान पर, पीथमपुर में उफनते नाले में दो युवक बहे

इंदौर। मध्यप्रदेश में आगामी 24 घंटों के दौरान पश्चिमी मप्र में तथा 6 से 10 जुलाई के दौरान पूर्वोत्तर मप्र के अधिकांश स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है। जोरदार मानसून के बाद हो रही लगातार बारिश से नदी-नाले उफान पर पहुंच गए हैं।  

पीथमपुर थाना क्षेत्र स्थित एक फैक्ट्री से काम कर बाइक से घर लौट रहे सुनील (20) और संतोष (21) (Sunil  and Santosh) निवासी राजपुर (इंदौर) उफनते नाले में बह गए। प्रत्यदर्शियों ने सुनील को जैसे-तैसे बचा लिया, लेकिन संतोष तेज बहाव में बह गया। पीथमपुर पुलिस सूचना के बाद मौके पर पहुंची और युवक की तलाश में जुट गई। शनिवार को चापड़ा के पास काली सिंध नदी में उफान से इंदौर-बैतूल हाइवे दो घंटे से बंद है। वहीं रायसेन में भारी बारिश से बीना नदी उफान पर पहुंच गई है। कहूला पुल पूरी तरह से जलमग्न हो गया है, जिससे भोपाल सागर मार्ग बंद है। यहां पर 25 से ज्यादा गांवों से संपर्क टूट गया है। श्योपुर में दो दिन से हो रही लगातार बारिश से सीप नदी पर बना बंजारा डेम ओवरफ्लो हो गया है।

इंदौर में जनजीवन अस्त-व्यस्त 

इंदौर में विगत 24 घंटे में साढ़े चार इंच बारिश होने से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। भोपाल में साढ़े चार इंच से ज्यादा बारिश हाेने से कई इलाकों में पानी घरों में घुस गया। बड़ा तालाब में भी जल स्तर बढ़ा है। धार जिले के पीथमपुर में शनिवार सुबह उफने नाले को पार करते समय बाइक सवार दो लोग बह गए, जिनमें से एक को बचा लिया गया है, जबकि दूसरे की तलाश की जा रही है।