Loading...

GWALIOR NEWS : लापता नाबालिग बहनें पंजाब में मिलीं, इंजीनियर और उसके भाई ने किडनैप किया था

ग्वालियर। एक सप्ताह पहले लापता हुई नाबालिग बहनों को बहोड़ापुर थाना पुलिस ने पंजाब से बरामद किया है। छात्राओं को दो सगे भाई सैर सपाटे का झांसा देकर पंजाब ले गए थे और धमकाकर उनके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। पकड़े गए आरोपियों में एक इंजीनियर तथा दूसरा छात्र है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कर पूछताछ शुरू कर दी है।

बहोड़ापुर थाना प्रभारी विवेक अष्ठाना ने बताया कि विनय नगर निवासी 17 वर्षीय, 14 वर्षीय नाबालिग कक्षा बारहवीं और दसवीं की छात्रा हैं। एक सप्ताह पहले वे कोचिंग के लिए घर से निकली थीं और उसके बाद वे वापस नहीं आईं। काफी तलाश के बाद भी जब उनका पता नहीं चला तो परिजनों ने उनके गायब होने की शिकायत पुलिस से की। पुलिस ने उनकी शिकायत पर अपहरण का मामला दर्ज कर जांच की तो पता चला कि आखिरी बार छात्राओं को सागरताल निवासी राहुल राजपूत (Rahul Rajput) और उसके छोटे भाई सागर राजपूत  (Sagar Rajput) के साथ देखा गया था। इसका पता चलते ही पुलिस ने उनकी तलाश की तो पता चला कि वे अपने घर से गायब हैं। इसका पता चलते ही पुलिस ने उनकी तलाश की, लेकिन कोई पता नहीं चला।

छात्राओं ने पुलिस को बताया कि वे उन्हें सैर सपाटे का झांसा देकर ले गए थे और उसके बाद उसने धमकी देकर दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था। जब वे घर जाने की कहती और उनका विरोध करती थी तो आरोपी उनकी मारपीट करते थे। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कर पूछताछ शुरू कर दी है।

ऐसे लगा सुराग
आरोपियों की जानकारी जुटाई तो पता चला कि राहुल इंजीनियर है और पंजाब की लवली इंजीनियरिंग कॉलेज से उसने इंजीनियरिंग की है और छोटा भाई सागर अभी पढ़ाई कर रहा है। वहीं पता चला कि राहुल की आखिरी लोकेशन आगरा थी। इसका पता चलते ही महिला एसआई रागिनी सिंह और नित्य त्रिपाठी के साथ आरक्षक अनुज जाट, लवकुश महिला आरक्षक, रवनीत कौर और विश्ववीर जाट की टीम उनकी तलाश में आगरा पहुंची। यहां पर जांच में पता चला कि वे पंजाब गए हैं। इसका पता चलते ही टीम पंजाब पहुंची और कालेज से जानकारी जुटाई, तो पता चला कि दो दिन पहले ही उन्होंने पास में ही एक कमरा किराये पर लिया है, इसका पता चलते ही पुलिस ने उन्हें दबोच लिया।