Loading...

CBSE : स्टूडेंट्स के लिए क्रिएटिव राइटिंग क्लासेस होंगी | EDUCATION NEWS

भोपाल। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) से मान्यता प्राप्त स्कूलों में अब क्रिएटिव राइटिंग पर विशेष फोकस किया जाएगा। इसके लिए स्टूडेंट्स को एक्सपर्ट क्रिएटिव राइटिंग के तरीके सिखाएंगे। इससे छात्र-छात्राएं बोर्ड एक्जाम में ज्यादा स्कोर कर सकेंगे। इसके लिए स्कूलों में इस सत्र से अलग-अलग बैच में क्रिएटिव राइटिंग क्लास का आयोजन किया जाएगा। इसमें स्टूडेंट्स को आंसर लिखने की ट्रिक्स सिखाई जाएंगी।   

सीबीएसई के इस निर्देश को देखते हुए स्कूलों की ओर से यह प्लानिंग की जा रही है। इसके अनुसार, थ्योरी सेक्शन में लोंग आसंर पूछे जाते हैं। जिसमें छात्रों को क्रिएटिव राइटिंग करनी पड़ती है, तभी उन्हें हर सवाल के हिसाब से स्कोर दिया जाता है। इसके लिए स्टूडेंट्स को अलग-अलग टॉपिक के हिसाब से आसंर राइटिंग कैसे करनी है। उसमें डायग्राम, फ्लोचार्ट, फिगर्स का यूज कब और कहां होना चाहिए। आंसर को पैराग्राफ और बुलेट्स में लिखने के क्या टिप्स हैं। इन सबसे जुड़ी जानकारी इन क्लासेस में एक्सपर्ट की तरफ से दी जाएगी।

सीबीएसई इस साल से कक्षा 10वीं के सवालों के पैटर्न में बदलाव करेगा। अब ऑब्जेक्टिव टाइप में कई तरह के सवाल पूछे जाएंगे। थ्योरी सेक्शन में क्रिएटिविटी आंसर राइटिंग खास होगी। इसके अलावा इसमें अंक भी ज्यादा मिलेंगे। इसके लिए सीबीएसई ने बोर्ड परीक्षाओं के सवाल के पैटर्न में बदलाव की जानकारी दी है। इसमें ऑब्जेक्टिव सवालों के मौजूदा फॉर्मेट में अलग-अलग पैटर्न के सवाल देने का फैसला किया है। इसको लेकर स्कूलों में डेमो दिए जाएंगे। इस सेक्शन के लिए 20 मार्क्स हैं, लेकिन बड़ा बदलाव थ्योरी पोर्शन में होगा। इसके 60 अंक आबंटित होते हैं। इसके माध्यम से क्रिऐटिव सवालों के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

इसमें 20 अंक के वास्तुनिष्ठ सवाल आएंगे। इन सवालों के पैटर्न में बदलाव किया जाएगा। कुछ सवाल मल्टीपल च्वॉइस आंसर के फॉर्मेट में होंगे। इनमें एक सवाल के चार विकल्प दिए जाएंगे। थ्योरी सेक्शन में बदलाव इस सेक्शन में 60 अंक के सवाल आएंगे। बोर्ड इस सेक्शन में सवालों की संख्या कम करेगा। अब हर सवाल के लिए पहले से ज्यादा अंक दिए जाएंगे।