Loading...

श्रीवास्तव दंपत्ति ने भोपाल कोर्ट के बाहर नारे लगाए 'इंकलाब जिंदाबाद' | BHOPAL NEWS

भोपाल। भोपाल में रह रहे उत्तरप्रदेश के श्रीवास्तव दंपत्ति मनीष श्रीवास्तव और वर्षा श्रीवास्तव को उत्तरप्रदेश की एटीएस ने गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। पेशी के बाद बाहर निकलते हुए दंपति ने मीडिया के सामने इंकलाब जिंदाबाद के नारे लगाए। हालांकि जब पत्रकारों ने उनसे पूछा कि आपको किन वजहों से पुलिस ने हिरासत में लिया गया है तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। मीडिया कर्मियों के बार-बार पूछने पर भी दंपती मनीष श्रीवास्तव और वर्षा श्रीवास्तव का एक ही जवाब था कि उन्हें नहीं पता कि उन्हें किस कारण से गिरफ्तार किया गया। यूपी एटीएस ने दंपती को पूछताछ के लिए ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ ले गई।

यूपी एटीएस ने की थी गिरफ्तारी 

भोपाल के शाहपुरा थाना क्षेत्र में पहचान छुपाकर रह रहे एक दंपती को यूपी एटीएस ने सोमवार को गिरफ्तार किया था। दोनों पर नक्सलियों से संपर्क रखने का आरोप है। इसके अलावा एटीएस ने उत्तरप्रदेश में ही कानपुर और देवरिया में आठ लोगों से पूछताछ की है। साथ ही तलाशी के दौरान संबंधितों के लैपटॉप, फोन आदि को जब्त किया था।

ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ ले जाया गया 

यूपी एटीएस के एडीजी असीम अरुण के मुताबिक, दोनों अभियुक्तों को भोपाल में कोर्ट में पेश कर ट्रांजिट रिमांड लेकर लखनऊ ले जाया गया है। यूपी एटीएस के एडीजी ने मीडिया को बताया कि भोपाल के शाहपुरा क्षेत्र के त्रिलंगा स्थित विकासकुंज में मनीष श्रीवास्तव और उनकी पत्नी वर्षा उर्फ अनीता श्रीवास्तव पहचान छुपाकर रह रहे थे। दोनों उत्तरप्रदेश के जौनपुर जनपद के कुरनी (समधागंज) के रहने वाले हैं।