Loading...

दीक्षा अग्रवाल की तलाश में फिर भोपाल आएगी यूपी पुलिस | BHOPAL NEWS

भोपाल। प्रयागराज उत्तरप्रदेश के पूर्व डिप्टी मेयर मुरारीलाल अग्रवाल की पौत्री दीक्षा अग्रवाल को तलाशने पुलिस एक बार फिर भोपाल आएगी। इस बार अब दीक्षा के अपहरण के आरोपी ऋतुराज सिंह के घर की तलाशी की तैयारी है, जिसके लिए कोर्ट मेें अर्जी दी गई है। उधर पुलिस का कहना है कि भोपाल पहुंचकर आरोपी के घरवालों को मुकदमे के संबंध में नोटिस भी दिया जाएगा। 

पूर्व डिप्टी मेयर मुरारीलाल अग्रवाल की पौत्री दीक्षा अग्रवाल पांच जुलाई को संदिग्ध हाल में गायब हो गई थी। परिजन खोजबीन में लगे थे कि तभी सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो से हड़कंप मच गया। इसमें दीक्षा अपनी मर्जी से शादी करने की बात कहते हुए परिजनों से तंग न करने की बात कहते दिखाई पड़ी। हालांकि, परिजनों ने आरोप लगाया कि उसे अगवा कर जबरन यह वीडियो बनाया गया। 

परिजनों ने भोपाल निवासी ऋतुराज सिंह व उसके माता-पिता पर सिविल लाइंस थाने में मुकदमा दर्ज कराया। मुकदमा दर्ज होने के बाद से ही पुलिस तलाश में जुटी है, लेकिन दीक्षा का कुछ पता नहीं चला। जिसके बाद अब पुलिस आरोपी के घर की तलाशी के लिए फिर भोपाल जाने की तैयारी में है। इसके लिए सर्च वारंट जारी कराया जाना है, जिस संबंध में पुलिस की ओर से शनिवार को कोर्ट में अर्जी दी गई है। 

सूत्रों का कहना है कि कोर्ट की अनुमति मिलते ही पुलिस भोपाल के लिए रवाना होगी। इस दौरान आरोपी के न मिलने पर उसके घरवालों को सिविल लाइंस में दर्ज मुकदमे के संबंध में नोटिस भी दिया जाएगा। इस बारे में सिविल लाइंस पुलिस आधिकारिक रूप से कुछ बताने से इंकार करती रही। उसका कहना है कि पुलिस अपहृत युवती की तलाश में जुटी है। जरूरत पड़ी तो टीम कोर्ट की अनुमति से फिर भोपाल जाकर जांच पड़ताल कर सकती है।