Loading...

BHOPAL में 4 साल के वरुण को जिंदा जलाया था, तांत्रिक क्रिया के लिए मारा गया | VARUN MEENA MURDER MYSTERY

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी से अपहरण किए गए 4 साल के वरुण मीणा की हत्या के मामले में नया खुलासा हुआ है। आईजी योगेश देखमुख का कहना है कि वरुण को जिंदा जलाकर मारा गया। किसी तांत्रिक क्रिया के लिए उसकी जान ली गई। पुलिस ने पड़ौस में रहने वाली महिला सुनीता सोलंकी और उसके देवर मुकेश सोलंकी को हिरासत में लिया है। पुलिस का दावा है कि इन दोनों ने ही वरुण की हत्या की है। 

पुलिस ने बताया कि मौका-ए-वारदात से पूजा का सामान और मिठाई का डिब्बा मिला है। इसलिए फिलहाल पुलिस तंत्र-मंत्र में हत्या की आशंका से इंकार नहीं कर रही है। हत्या से पहले बच्चे के हाथ-पैर बांध दिए गए थे। भोपाल IG योगेश देशमुख के मुताबिक आरोपियों ने वरुण को ज़िंदा जलाकर मारा है। हत्या से पहले कपड़े से बच्चे के हाथ-पैर बांध दिए गए थे और फिर उसे जलाया गया। वरुण की हत्या के बाद उसकी लाश ड्रम में डालकर उस पर गेहूं भरकर बंद कर दिया था।

पड़ोस के मकान में मिली लाश
ये सारी वारदात बच्चे के पड़ोस में खाली पड़े मकान में अंजाम दी गयी, लेकिन किसी को भनक तक नहीं लगी। मकान 3 साल से बंद पड़ा था। अभी हाल ही में भोपाल के किसी व्यक्ति ने इसे ख़रीदा है। मकान में बाहर से ताला लगा था इसलिए किसी का ध्यान उस ओर नहीं गया। पुलिस ने भी आसपास के इलाके की तो तलाशी ली, लेकिन उस घर में ताला लटका होने के कारण उस ओर पुलिस का पहले ध्यान नहीं गया। जब तीन दिन तक मकान का ताला नहीं खुला तब पुलिस को शक हुआ। घर के पीछे से जाकर देखा तो अंदर वरुण की बुरी तरह जली हुई लाश पड़ी दिखी।