मप्र के 27 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी | MP WEATHER FORECAST

भोपाल। मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में पिछले दो दिन से जारी बारिश के चलते कई क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति बन गई है। सोमवार को मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी की है। इसके अनुसार, राज्य के 27 जिलों में भारी बारिश और कहीं-कहीं अति वृष्टि हो सकती है। इस बीच भोपाल में कल से हो रही रुक-रुक पर बारिश का दौर सोमवार को भी जारी है। 

ऑरेंज अलर्ट के अनुसार, आगामी 48 घंटों के दौरान इंदौर, धार, अलीराजपुर, होशंगाबाद, सीहोर, गुना, उज्जैन, छिंदवाड़ा, हरदा, राजगढ़, नीमच, रतलाम, अशोकनगर, आगर, श्योपुरकलां, बालाघाट, अनूपपुर, डिंडोरी, विदिशा, बड़वानी, खरगोन, खंडवा, झाबुआ, बुरहानपुर, शाजापुर, मंदसौर और सिवनी जिले शामिल हैं। 

मौसम विज्ञान भोपाल केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि इसके साथ ही उत्तर पश्चिम मध्यप्रदेश एवं पूर्वी राजस्थान पर आज ऊपरी हवाओं में 4.5 किलोमीटर ऊपर एक चक्रवाती घेरा भी बन गया है। द्रोणिका (मानसून ट्रफ लाइन) भी बीकानेर, सवाईमाधोपुर और मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ से छत्तीसगढ़ एवं ओडिशा होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। ये अच्छी बारिश का संकेत है।

सीहोर में एक बच्चा बहा: 

सीहोर जिले में कल एक पुलिया पर तेज बहाव के पानी में एक बच्चा डूब गया। देर रात तक उसका कुछ पता नहीं चल सका। उसकी पहचान खजुरिया कासम निवासी कृष्णपाल (8) के तौर पर हुई है। 

शिवपुरी में पिता-पुत्र की मौत, राजगढ़ में 3 बह गए, भिंड में 3 मौतें

नजदीकी राजगढ़ जिले में भी विभिन्न स्थानों पर तीन लोग तेज पानी के बहाव में बह गए। तीनों को तलाशने के प्रयासों में देर रात तक सफलता नहीं मिल सकी थी। भिंड जिले में कल तेज बारिश के दौरान बिजली गिरने से विभिन्न स्थानों पर तीन लोगों की मौत हो गई। शिवपुरी जिले में भी एक पिता-पुत्र पर बिजली गिरने से बच्चे की मौत हो गई।