Loading...

11 साल की लड़की के साथ रेप के आरोप में अटल सेना का अध्यक्ष गिरफ्तार | BETUL MP NEWS

बैतूल। सामाजिक संस्था अटल सेना के संचालक एवं अध्यक्ष व पार्षद राजेंद्र सिंह चौहान को खिलाफ 11 साल की एक लड़की के साथ बलात्कार के मामले में गिरफ्तार किया गया है। पीड़ित लड़की के पिता मजदूर हैं। आरोप है कि होली का निमंत्रण देने के बहाने पार्षद घर में घुसा और लड़की के साथ रेप किया। राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग से फार्वर्ड होकर आई शिकायत की जांच के बाद पुलिस ने अपराध होना पाया और मामला दर्ज किया था। सोमवार को मामला दर्ज होने के बाद आरोपी ने कल शाम थाना पहुंचकर आत्मसमर्पण कर दिया।

अज्ञात व्यक्ति ने राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग को एक पत्र भेजा था। पत्र में बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना के बारे में लिखा था। आयोग ने पुलिस को पत्र देकर जांच के लिए कहा। इसके बाद पुलिस ने लोगों से पूछताछ कर पीड़ित परिवार से संपर्क कर आरोपी पार्षद पर 30 जून को केस दर्ज किया। केस दर्ज होने के बाद से राजेंद्र सिंह चौहान (केंडू बाबा) फरार था। शाम को गंज थाने पहुंचकर उसने सरेंडर किया। 

मां ने पुलिस को बताई पूरी घटना: 

पीड़िता की मां ने पुलिस को शिकायत में बताया 19 मार्च को हम पति-पत्नी मजदूरी करने गए थे। शाम को घर लौटे तो 11 वर्षीय बेटी ने बताया केंडू बाबा उर्फ राजेंद्र सिंह पार्षद होली का कार्ड देने के बहाने घर में घुस गया और अंदर से दरवाजा बंद कर गलत काम किया। इसके पहले में भी बेटी को अकेला देखकर घर में घुसकर तीन बार गलत काम किया था। आरोपी के पार्षद एवं प्रतिष्ठित व्यक्ति होने से डर के कारण अब तक रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई थी। शिकायत पर पुलिस ने आरोपी केंडू बाबा पर धारा 376 (2आई), 376 (2 एन) 450 व 3, 4 पास्को एक्ट एवं एससीएसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। 

पार्षद को रक्षाबंधन पर 1 हजार बहने बांधती हैं राखी 

राजेंद्र सिंह चौहान उर्फ केंडू बाबा पार्षद और समाजसेवी हैं। गरीबों एवं महिलाओं के हित में आए दिन प्रदर्शन करते हैं। अटल सेना नाम की समिति के माध्यम से गतिविधि संचालित करते है। केंडू बाबा को हर वर्ष रक्षा बंधन पर शहर की एक हजार से ज्यादा बहनें राखी बांधती है। हर वर्ष रक्षाबंधन पर कुछ अलग कर बहनों को अलग गिफ्ट देने पर पार्षद हमेशा चर्चा में रहते हैं।

पिता को मारा था थप्पड़, इसलिए मुझे फंसाया 

राजेंद्र सिंह उर्फ केंडू बाबा का कहना है कि मैं सामाजिक गतिविधियों में शामिल रहता हूं। मेरी तरक्की से जो जलते हैं, उन्होंने यह आरोप लगाया है। पीड़िता के पिता को घर पर काम के लिए बुलाया था। उसने मेरी पत्नी को धक्का मारा था। उसके बाद मैंने उसके घर जाकर उसे चांटा मारा था। इसके बाद से बुराई चालू हुई थी। फरियादी महिला (पीड़िता की मां) ने मुझे फोन कर धमकी दी थी। पैसे की डिमांड भी कर रही थी।