Loading...

दिग्विजय सिंह के बाद कैलाश विजयवर्गीय की फोटो वायरल | THE VIJAYVARGIYA SHOW

भोपाल। इंदौर में भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय द्वारा नगर निगम अधिकारी को बल्ले से मारने के बाद विधायक आकाश विजयवर्गीय को सही और गलत सिद्ध करने के लिए सोशल मीडिया पर दोनों पक्षों के सोशल एडवोकट्स के बीच जंग चल रही है। विजयवर्गीय के समर्थकों ने दिग्विजय सिंह की फोटो वायरल की तो अब विजयवर्गीय विरोधियों ने कैलाश विजयवर्गीय की पुरानी फोटो वायरल कर दी। यहां बता दें कि लड़ाई विजयवर्गीय समर्थक और विजयवर्गीय विरोधी के बीच चल रही है। मामला भाजपा कांग्रेस की परिधि से बाहर निकल चुका है। 

दिग्विजय सिंह ने पुलिसकर्मी में थप्प्ड़ मारा

यह फोटो अक्टूबर 2015 का है। विधानसभा में हुई अवैध नियुक्तियों के मामले में दिग्विजय सिंह को पूछताछ के लिए तलब किया गया था। वो लावालश्कर लेकर कंट्रोल रूम पहुंचे। यहां बयान दर्ज कराने के बाद जब वो बाहर निकले तो उनके समर्थकों ने तेज आवाज में नारेबाजी शुरू कर दी। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया। इसी दौरान दिग्विजय सिंह ने एक पुलिसकर्मी को थप्पड़ मारा। तत्समय मप्र में भाजपा की सरकार थी एवं शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री थे। 

कैलाश विजयवर्गीय ने ASP को जूता मारा

सोशल मीडिया पर यह फोटो भी वायरल हो रही है। बताया जा रहा है कि यह फोटो 1994 की है। तब कैलाश विजयवर्गीय इंदौर के महापौर हुआ करते थे। तब तत्कालीन ASP प्रमोद फड़नीकर जी पर जूते से वार किया था।  इस घटना के पूर्ण विवरण की प्रतीक्षा है। यह भी पता किया जा रहा है कि तत्समय कोई आपराधिक मामला दर्ज हुआ था या नहीं।