Loading...

MPPSC आयुसीमा मामले में प्रदर्शन शुरू, दमोह में कमलनाथ के 4 पुतले जलाए | MP NEWS

दमोह। मप्र सरकार द्वारा लोक सेवा आयोग की परीक्षा में केवल सामान्य जातियों के उम्मीदवारों की आयु सीमा (AGE LIMIT) 5 वर्ष घटाए जाने के विरोध में प्रदर्शनों का क्रम शुरू हो गया है। हजारों उम्मीदवार और उनके परिवारजन इस बात से नाराज हैं कि सरकार ने आयु सीमा 35 साल कर दी जबकि लोग इस बात के लिए सहमत हैं कि सभी की आयु सीमा 40 साल कर दी जाए। इसी के चलते दमोह में ABVP ने सीएम कमलनाथ (CM Kamal Nath) के 4 पुतले जलाए। पुलिस ने पूरे इलाके को छावनी की तरह घेर लिया था परंतु पुतला दहन रोक नहीं पाई। 

शनिवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (Akhil Bhartiya Vidyarthi Parishad) दमोह इकाई द्वारा विरोध स्वरूप पुतला दहन किया गया। पुलिस को सुबह 10 बजे से 11 बजे के बीच विरोध प्रदर्शन और कमलनाथ सरकार का पुतला दहन की सूचना मिलने पर अंबेडकर चौराहा पर फायर बिग्रेड बुलाकर खड़ा करा दिया गया और बड़ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात करा दिए गए। इस दौरान सीएसपी मुकेश अबिद्रा, देहात थाना टीआई एचआर पांडे सहित कोतवाली पुलिस, जबलपुर नाका चौकी पुलिस के महिला पुरूष जवान घेराबंदी कर करीब एक घंटे तक खड़े रहे। इस बीच अभाविप के सदस्यों का मानसभवन के पास एकत्रीकरण होता रहा और पुतला दहन की रूपरेखा तैयार की जाती रही। 

दोपहर करीब 12.15 बजे नारेबाजी करते हुए सभी सदस्य अंबेडकर चौक की ओर बड़े और चौराहे पर आकर मानवश्रंखला बनाकर नारेबाजी करना शुरू कर दी। इसके बाद एक युवा जलता हुआ पुतला लेकर मानस भवन की ओर से दौड़ा जिसे सीएसपी सहित अन्य जवानों ने छीनकर आग बुझाते हुए नाली में डाल दिया। इसके बाद दूसरा जलता हुआ पुतला घंटाघर की ओर से लाया गया फिर तीसरा जलता हुआ पुतला कोआपरेटिव बैंक चौराहा की ओर और चौथा कीर्तिस्तंभ चौराहा की ओर से लाया गया हालांकि पुलिस के जवानों ने मशक्कत कर पुतला छीनकर बुझाए। इस दौरान जिला संयोजक शिवेंद्र तिवारी, आकाश राठौर, आनंद सहित एक अन्य युवा के हाथ भी झुलस गए। पुतला बुझाने बीच बीच में फायर बिग्रेड से पानी की बौछारे भी की गई। सड़क पर जाम के हालत बने रहे। इस मौके पर छात्रा प्रमुख निकिता नेमा, उजमा नाज सहित अन्य पदाधिकारियों ने अपनी बात रखी। इस मौके पर बड़ी संख्या में छात्र छात्राओं की उपस्थिति रही।