पुलिस की सांठगांठ से बिना नोटिस दिये हो गया तलाक | INDORE NEWS

इंदौर। इंदौर की युवती को विदेश में परेशान करने वाले इंजीनियर (Engineer) ने कोर्ट (COURT) को गुमराह कर दो वर्ष पहले एकतरफा तलाक (Divorce) ले लिया। महिला थाने में शिकायत करने पर पुलिस कर्मियों से सांठगांठ की और रिपोर्ट बनवाई कि वह एक करोड़ रुपए की मांग कर रही है। गुरुवार को व  पिता के साथ थाने पहुंची और कहा कि प्रताड़ना में सास और ससुर भी शामिल हैं। उन्हें भी आरोपित बनाया जाना चाहिए।

भंवरकुआं पुलिस ने बुधवार को कौशल्यापुरी निवासी विभा गुप्ता (31) की शिकायत पर पति प्रतीक गुप्ता (Prateek Gupta) निवासी दिल्ली रोड सहारनपुर (यूपी) के खिलाफ हेराफेरी, मारपीट और दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज किया था। विभा के पिता डॉ. सांवरलाल शर्मा (Dr. Sanwarlal Sharma) पिनेकल ड्रीम संघर्ष समिति (Pinnacle Dream Conflict Committee) के अध्यक्ष है और भारतीय नौेसेना से रिटायर हुए है। ससुर ब्रजेश गुप्ता आंखों के डॉक्टर (Brajesh Gupta eye doctor) हैं। उनका सहारनपुर में अस्पताल भी है।

विभा के अनुसार आरोपितों ने शादी के तीन दिन बाद ही हीरे के सेट की मांग कर ली थी। एक सप्ताह बाद दोनों पति-पत्नी अमेरिका चले गए थे। वहां भी पति ने परेशान किया और लॉकर से ज्वेलरी निकाल ली। 15 नवंबर 2015 को भारत आने पर परिजन को पूरा घटनाक्रम बताया और 15 फरवरी 2016 को महिला थाने में शिकायत दर्ज करवाई। एक महिला पुलिसकर्मी ने ससुर डॉ. ब्रजेश गुप्ता को थाने बुलाया और विभा पर समझौते का दबाव बनाया। उन्होंने काउंसलिंग के लिए प्रतीक को बुलाया नहीं और रिपोर्ट तैयार कर अधिकारियों को सौंप दी। इसमें लिखा कि विभा भरण-पोषण के लिए 1 करोड़ रुपए की मांग कर रही है।

SSP ने केस दर्ज करने के आदेश पर मिला जवाब - तलाक दे दिया

एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र ने विभा की शिकायत पर दोबारा जांच करवा कर केस दर्ज करने के आदेश दिए तो डॉ. ब्रजेश भी पहुंच गए। उन्होंने कहा कि विभा मानसिक बीमार है। उनका बेटा वर्ष 2017 में ही एकतरफा तलाक दे चुका है। विभा के अनुसार आरोपितों ने कोर्ट को गुमराह किया। तलाक का केस लगाने पर उन्हें एक बार भी नोटिस नहीं मिला। एसएसपी द्वारा फटकारने पर डॉ. ब्रजेश बहाने बनाने लगे।

एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र के अनुसार प्रतीक फिलहाल अमेरिका में है। उसके खिलाफ चालान पेश कर इंटरपोल के जरिए वारंट भेजा जाएगा। इसके पहले भी पुलिस ने फरियादी किरण जगवानी की शिकायत पर कबीर मनोहर (एनआरआई) की गिरफ्तारी के लिए इंटरपोल को सूचना भेजी है। कबीर ओकडेल रोड लंदन में छिपा हुआ है।