Loading...

सहकारी कर्मचारियों की मांग पूरी करने गठित कमेटी की पहली मीटिंग | EMPLOYEE NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश सहकारी संस्थाओं के कर्मचारी की कई वर्षों से चली आ रही मांग जल्द ही पूरी होने वाली हैं, राज्य शासन के वचन पत्र की कंडिका 72 "सहकारी संस्थाओं के कर्मियों हेतु पृथक कैडर का गठन कर उनके नियमितीकरण, वेतन में समानता तथा सरकारी कर्मियों की तरह सुविधाओं को बढायेगें' के क्रियान्वयन हेतु नियम बनाने के लिये मध्यप्रदेश शासन सहकारिता विभाग मंत्रालय भोपाल ने दिनांक 19 जून को आदेश जारी कर सहकारी संस्थाओं के कर्मचारियों के हित का ध्यान रखते हुये सुझाव कमेटी का गठन किया गया था।

गठित सुझाव कमेटी में 1. श्री भगवान सिंह जी यादव ग्वालियर 2. श्री यादवेन्द्र सिंह जी टीकमगढ, 3. श्री नन्हें सिंह जी धुर्वे जबलपुर, 4. श्री रामेश्वर जी पटेल इन्दौर 5. श्री उदय प्रताप सिंह जी भिंड 6. श्री चंद्रिका विवेदी जी छतरपुर 6. श्री दीपक सक्सेना जी छिन्दवाडा एवं अपर पंजीयक महोदय सहकारी संस्थाएं भोपाल, प्रबंध संचालक महोदय म.प्र. राज्य सहकारी बैंक भोपाल, संयुक्त आयुक्त महोदय सहकारी संस्थाएं भोपाल द्वारा आज दिनांक 22/06/2019 को गठित समिति की बैठक मध्यप्रदेश राज्य सहकारी बैंक मर्यादित भोपाल के समन्वय भवन में आयोजित की गई। 

इस बैठक में मध्यप्रदेश सहकारी संस्थाएँ कर्मचारी महासंघ म0प्र0 के प्रदेशाध्यक्ष श्री सजेन्द्र सिह खिंची, प्रदेश उपाध्यक्ष श्री इन्दर सिंह गौड, प्रदेश महासचिव श्री अशोक मिश्रा शहडोल, जिलाध्यक्ष श्री कैलाश पंवार सीहोर, श्री कृपाराम मालवीय, श्री गोपाल तिवारी सिहोर, जिलाध्यक्ष श्री संतोष शुक्ला देवास, श्री हरेन्द्र सिंह, ऑपरेटर देवेन्द्र सिंह देवास, राजेन्द्र पंवार संजोजक सीहोर, श्री यमुना मिश्रा शहडोल एवं संस्थाओं के अन्य कर्मचारी के साथ सहकारी समितियों के कर्मचारी के लिये गठित कमेटी के प्रतिनिधियों से महासंघ के कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर बैठक के पूर्व एवं बैठक की कार्यवाही में सहकारी समितियों कर्मचारी महासंघ के प्रतिनिधियों ने भी अपनी मांग से अवगत करवाया। 

कमेटी के सदस्य महोदय ने कर्मचारियों को आश्वस्त किया कि यह बैठक सिर्फ आपकी मांगों के निराकरण के लिये ही रखी गई हैं, आज सभी अधिकारियों एवं गठित कमेटी के सदस्यों को महासंघ द्वारा कर्मचारियों की मांगो के लिये अलग-अलग कॉपी दी गई, जिसमें गठित कमेटी द्वारा बहुत जल्द कर्मचारियों की मांगों का निराकरण किया जावेगा। 
(MADHYA PRADESH SAHKARI SANSTHAON KE KARMACHARI. NEW CEDAR, NIYAMITIKARAN, SAMAN VETAN, PERMANENT SERVICE)