Loading...

BHOPAL NEWS : बारिश से पहले नालों की सफाई का काम शुरू

भोपाल। नालों की सफाई नहीं होने और जलभराव वाले 126 स्थानों पर किए जाने वाले काम की हकीकत जानने के लिए कलेक्टर तरुण पिथोड़े (Collector Tarun Pithode) ने SDM की टीमों को सोमवार को भेजा। नगर निगम प्रशासन ने इन इलाकों में नालों की सफाई कराने की बात कही थी।  

हुजूर एसडीएम राजकुमार खत्री होशंगाबाद रोड पर स्थित स्नेह नगर पहुंचे। उन्होंने देखा कि यहां नाले की सफाई नहीं हुई है, इस पर उन्होंने निगम अमले को स्पॉट पर आने के निर्देश दिए। कुछ ही देर में निगम की टीम मौके पर पहुंची और नाले की सफाई काम शुरू हुआ। इसी तरह गोविंदपुरा एसडीएम मनोज उपाध्याय ने गोविंदपुरा से गुजरने वाले नाले की जांच की। वहीं बैरागढ़ एसडीएम केके रावत ने सैफिया काॅलेज के पास स्थित नाले की जांच की। यहां पर पाया कि नाले की सफाई तो हुई है, लेकिन अतिक्रमण के कारण नाला संकरा हो गया है, इसे चौड़ा किया जाना चाहिए। हुजूर एसडीएम राजकुमार खत्री ने बताया कि स्नेहनगर के नाले की पुलिया का तीसरा मोहरा खुलवाया गया। यहां पर लंबे समय से मिट्‌टी जमा होने के कारण पानी की निकासी नहीं हो पा रही थी। 

प्रतिदिन रिपोर्ट लेंगे, स्पॉट वेरिफिकेशन कराएंगे

नगर निगम 126 लोकेशन में जलभराव की रिपोर्ट तैयार की है। कमिश्नर बी विजय दत्ता ने अफसरों को निर्देश दिए हैं कि जलभराव वाले इलाकों लोगों को जागरूक किया जाए। बारिश के पहले यहां चेतावनी के बोर्ड लगाए जाएं। कंट्रोल रूम में कर्मचारी 24 घंटे अलर्ट रहें, जिससे बारिश का पानी भरने पर समय पर राहत पहुंच सके। उन्होंने कहा कि नालों के किनारे जालियां लगाई जाएं, जिससे हादसा होने से बच सके। उन्होंने कहा कि वार्ड में कहीं भी गंदगी तो वार्ड प्रभारी और दरोगा पर जिम्मेदार होंगे। उन्होंने स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के तहत शहर की साफ-सफाई व्यवस्था की समीक्षा की।